अवकाश की वजह से एक दिन पहले मनाई गई बाबा साहेब की जयंती

अवकाश की वजह से एक दिन पहले मनाई गई बाबा साहेब की जयंतीअवकाश होने के कारण एक दिन पहले मना अम्बेडकर जयंती 

शुभम मिश्र
स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

गुगरापुर (कन्नौज)। 14 अप्रैल को सार्वजनिक अवकाश होने के कारण जिलेभर में बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती स्कूलों में आज मनाई गई।

प्राथमिक स्कूल गढ़िया बलिदासपुर की प्रधानाचार्य वीना (35) बताती हैं कि बाबा साहब एक गरीब परिवार से थे। गरीब परिवार से होने के बावजूद बाबा साहब ने विदेश जाकर पढ़ाई किया और आजाद भारत को चलाने के लिए बने संविधान निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया।’’

प्राथमिक स्कूल सराय बारामऊ के इंचार्ज प्रधानाध्यापक विनय कुमार कहते हैं कि ‘‘कल सार्वजनिक अवकाश है। शिक्षा विभाग के आदेशनुसार एक दिन पहले ही हमने बाबा साहब का जन्मदिन मनाने का निर्णय लिया।

बच्चों ने अम्बेडकर जयंती पर अम्बेडकर को जाना

प्राथमिक स्कूल सराय बारामऊ में पढ़ने वाले कक्षा पांच के छात्र कृष्ण बताते हैं कि ‘‘उनको स्कूल में बताया गया है कि डॉ अंबेडकर ने संविधान का निर्माण किया है। उन्होंने छुआछूत का विरोध किया था।’’

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top