बाराबंकी के किडनी कांड में बड़ी कार्रवाई, केजीएमयू के दो डॉक्टरों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज

बाराबंकी के किडनी कांड में बड़ी कार्रवाई, केजीएमयू के दो डॉक्टरों के खिलाफ मुक़दमा दर्जपीड़ित के परिवार वालों ने ट्रामा सेंटर के डॉक्टरों पर आरोप लगाया था

लखनऊ। किंग जार्ज मेडिकल कालेज ( केजीएमयू) के दो डॉक्टरों डॉ. आनंद मिश्र और डॉ. संदीप तिवारी के खिलाफ बाराबंकी नगर कोतवाली में नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। दोनों डॉक्टरों पर 19 फरवरी 2015 को आंत के आपरेशन के दौरान गायब किडनी के मामले में गंभीर आरोप हैं।

पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण के आदेश पर दर्ज किए गए इस मुकदमें में बाराबंकी जिला अस्पताल का भी एक अज्ञात डॉक्टर शामिल है। इन डॉक्टरों के खिलाफ कोठी थाना क्षेत्र के ग्राम पूरे भवानी मजरे कोठी निवासी पृथ्वीराज ने तहरीर दी थी। आरोप है कि केजीएमयू में आपरेशन के बाद पृथ्वीराज की दाहिनी किडनी का पता नहीं चल रहा है।

मुकदमे में तीनों डॉक्टरों पर किडनी निकालकर बेच लेने का आरोप है। इस मामले को लेकर पुलिस और सरकार तब चेती जब दैनिक जागरण में इसे प्रमुखता के साथ प्रकाशित किया गया। इसी मामले की चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने पीजीआइ के डॉक्टरों को जांच सौंपी है। पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने बताया कि तीनों डॉक्टरों पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।



First Published: 2017-05-14 09:31:37.0

Share it
Share it
Share it
Top