बाराबंकी : सांसद प्रियंका रावत ने डीएम पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, योगी से की शिकायत

बाराबंकी : सांसद प्रियंका रावत ने डीएम  पर लगाया भ्रष्टाचार का आरोप, योगी से की शिकायतलोकसभा सांसद प्रियंका सिंह रावत

रिपोर्ट - सतीश कश्यप

बाराबंकी। उत्तर प्रदेश में जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है तभी से सरकार और प्रशासन के अधिकारियों के बीच तनातनी की खबरें आ रही हैं। इससे पहले भी यूपी सरकार के मंत्रियों ने और विधायकों ने जिले के डीएम और एसपी द्वारा उनकी अनदेखी करने व उचित सम्मान न दिए जाने की शिकायत संगठन और मुख्यमंत्री से पहले भी करते रहे हैं।

ताजा मामला यूपी के बाराबंकी का है जहां भाजपा की लोकसभा सांसद प्रियंका सिंह रावत जो हमेशा से ही अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में रहती हैं उन्होंने जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी पर भ्रष्टाचार विकास कार्यों की अनदेखी और खुद के अभिमान का गंभीर आरोप लगाते हुए बाकायदा एक पत्र लिखकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जिलाधिकारी अखिलेश तिवारी की शिकायत की है।

ये भी पढ़ें- ममता बनर्जी की केंद्र सरकार को खुली चुनौती, आधार से लिंक नहीं करुंगी अपना मोबाइल नंबर

ज़िला प्रशासन के अधिकारियों से भाजपा सांसद प्रियंका सिंह रावत की अदावत कोई नई बात नहीं है। इससे पहले भी जिले के तत्कालीन अपर पुलिस अधीक्षक कुंवर ज्ञानंजय सिंह के बारे में खाल खींच लेने की धमकी वाला बयान देकर यह भाजपा सांसद पहले भी काफी सुर्खियों में रही हैं, लेकिन इस बार उनके निशाने पर आमतौर पर साधारण व सादगी पूर्ण व्यवहार के लिए जिले में अपनी पहचान बनाने वाले आईएएस अखिलेश तिवारी हैं। आपको बता दें की यह वही डीएम अखिलेश तिवारी हैं जिन्होंने सादगी भरे अंदाज़ में जिले के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों के दौरे पर आए सीएम योगी आदित्यनाथ के हैलीपेड पर पैर छू लिए थे जिसकी उस समय काफी चर्चा हुई थी।

अब इस विवाद की वजह कुछ भी हो लेकिन प्रदेश सरकार पर विकास कार्यों में नाकाम रहने का आरोप लगाने वाले विपक्षी दलों के हाथ सांसद और डीएम की इस लड़ाई से बैठे बैठाए एक मुद्दा जरूर लग गया है साथ ही इस विवाद से जिले के विकास का पहिया और भी अवरुद्ध होने का संकट पैदा हो गया है।

ये भी पढ़ें- राष्ट्रपति कोविंद ने टीपू सुलतान का नाम लिया और भाजपा-कांग्रेस में छिड़ा सियासी वाकयुद्ध

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top