आगरा एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की भेंट चढ़ा पूरा परिवार, हादसे में 6 लोगों की मौत

आगरा एक्सप्रेस-वे पर कोहरे की भेंट चढ़ा पूरा परिवार, हादसे में 6 लोगों की मौतआगरा एक्सप्रेस वे पर हुआ दर्दनाक हादसा।

लखनऊ। कोहरे में अक्सर वाहन चालकों को अपनी रफ्तार पर नियंत्रण के लिए अभियान चलाकर प्रचार-प्रचार किया जाता है, लेकिन इन अभियानों को दरकिनार कर कोहरे में भी वाहन चालक तेज रफ्तार से फर्राटा भरने से बाज नहीं आते हैं। इसका नतीजा यह हुआ कि उत्तर प्रदेश के बाराबंकी के एक पूरे परिवार को अपने जान से हाथ धोना पड़ा है।

उल्टी दिशा से आ रही ट्रक ने मारी टक्कर

मामला राजधानी लखनऊ का है, जहां काकोरी क्षेत्र में तेज रफ्तार एक सेंट्रो कार में पूरा परिवार वैष्णो देवी के दर्शन कर लौट रहा था। इस दौरान उल्टी दिशा से आ रही ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। ट्रक और कार की टक्कर से अंदाजा लगाया जा रहा है कि कार चालक भी कोहरे में पूरी रफ्तार से था।

यह भी पढ़ें: 2017 में सोशल मीडिया : इन मुद्दों को दी आवाज़, जगाया कुछ दिलों में प्यार

दूसरी कार ने मारी टक्कर

एसपी ग्रामीण सतीश कुमार ने बताया, “इस हादसे में दिल्ली से लौट रहे कार सवार तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई, जबकि ट्रॉमा सेंटर ले जाते समय तीन अन्य लोगों ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।“ उन्होंने आगे कहा, “वहीं पीछे से आ रही एक दूसरी कार सवार ने भी ट्रक में टक्कर मार दी, जिसके चलते उस कार में भी सवार तीन लोगों को घायल अवस्था में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।“

दिल्ली से लौट रहे थे

एसएचओ काकोरी यशवंत सिंह बताते हैं, “मूलरूप से बाराबंकी निवासी विष्णु, बेटी मुस्कान, चचेरा भाई रामराज, भाई रिषभ, रिंकू, सुनीता और सीमा दिल्ली से लौट रहे थे। वह अपनी कार से बाराबंकी जा रहे थे। इसी बीच शुक्रवार सुबह कोहरा अधिक होने के कारण आगरा एक्सप्रेस-वे पर ट्रक में कार की भिडंत हो गई। दोनों वाहन तेज रफ्तार होने के कारण कार पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए और उसमें छह लोगों की मौके पर मौत हो गई। इसी बीच पीछे से आ रही एक और कार की ट्रक में भिंड़त हो गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में सभी को कार से गेस कटर की मदद से बाहर निकाला। इस दौरान तीन की मौके पर मौत हो गई थी, जबकि कार सवार तीन लोगों को पुलिस ने ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।“

यह भी पढ़ें: बीजेपी प्रवक्ता ने पाकिस्तानी उच्चायोग के लिए भेजीं चप्पलें, लोगों से भी की अपील

डीजल बचाने की लालच में गलत रास्ता चुनाव

वहीं पुलिस की मानें तो कार सवार परिवार वैष्णो देवी से दर्शन कर लौट रहे थे। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार पूरी तरह से कबाड़ में तब्दील हो गई। जबकि कार में आगे बैठे दो लोगों के शव बुरी तरह से उसमें फंस गए। उधर घटना से आक्रोशित गाँव वालों ने तत्काल हाइवे पर बीच-बीच में कट को बंद कराने की मांग की है। वहीं एसओ काकोरी ने भी माना कि चालक डीजल बचाने की लालच से गलत दिशा में ट्रक चला रहा था। चालक को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस संपर्क करने की कर रही कोशिश

हादसे में मृतक एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। पुलिस मौके पर मिले मोबाइल फोन, दस्तावेज के जरिए उनके परिजन से संपर्क कर रही है। मृतकों में दो महिलाएं, दो पुरुष समेत अन्य लोग शामिल हैं।

कट को बंद नहीं करवा रही

घटना के बाद मौके पर जुटे आसपास के ग्रामीणों ने कहा कि, घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर भरेसा गाँव के पास हाईवे का कट है। इसी कट तक पहुंचने के लिए रोज ही लोग वाहन गलत दिशा में दौड़ाते हैं। जिसके चलते पहले भी कई हादसे हो चुके हैं। लेकिन पुलिस ओवरलोड वाहनों से वसूली करने के चक्कर में उस कट को नहीं बंद करवा रही है। आम दिनों में तो कम हादसे होते थे, लेकिन अब कोहरा बढ़ने के चलते हादसों की संख्या में इजाफा होता जाएगा।

यह भी पढ़ें: यूपी: डीजीपी की रेस में प्रवीण सिंह और हितेश अवस्थी चल रहे आगे

Share it
Share it
Share it
Top