मेरिट के आधार पर पुलिसभर्ती की मांग को लेकर सड़क पर उतरे अभ्यर्थी, सीएम योगी ने बुलाया

Karan Pal SinghKaran Pal Singh   24 May 2017 1:22 PM GMT

मेरिट के आधार पर पुलिसभर्ती की मांग को लेकर सड़क पर उतरे अभ्यर्थी, सीएम योगी ने बुलायाधरना प्रदर्शन करते अभ्यर्थी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा 28,916 पुरुष और 5800 महिला पुलिस आरक्षी एवं आरक्षी पीएसी के पदों पर हुई भर्ती के संबंध में अब तक परिणाम जारी नहीं करने को लेकर हजारों नौजवानों ने बुधवार को यूपी विधानसभा के सामने जमकर प्रदर्शन किया। जिनमें एक नौजवान की हालत बिगड़ गई जिसको एम्बुलेंस से अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

विधानसभा के सामने प्रदर्शन की जानकारी के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने अभ्यर्थियों के प्रतिनिधिमंडल को मुलाकात के लिए बुला लिया है।

इस दौरान प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे साक्षी यादव ने बताया, “29 दिसंबर 2015 को जारी इस भर्ती के लिए प्रक्रिया चल रही थी, इसी दौरान कुछ लोगों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की। इस पर 27 मई 2016 को हाईकोर्ट ने अंतिम आदेश पारित करते हुए परीक्षाफल के अंतिम परिणाम पर रोक लगा दी। फिर 20 जनवरी 2017 को अदालत ने पुलिस भर्ती का परिणाम सुरक्षित किया लेकिन आज तक ये परिणम जारी नहीं किया गया।”

धरना दे रहे नौजवान की हालत बिगड़ने के बाद एम्बुलेंस से अस्पताल ले जाया जाता।

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के अधिवक्ता ने हाईकोर्ट में प्रभावी पैरवी की लेकिन इसके बाद लापरवाही के चलते कोर्ट में उचित पैरवी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि 28916 पुरुष और 5800 महिला पुलिस आरक्षी एवं पीएसी आरक्षी के पदों पर नियुक्ति नहीं हो पा रही है। उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ से मांग की है कि इस मामले में वह हस्तक्षेप करें तभी कोई हल निकल सकता है। उधर कई घंटे विधानसभा के सामने प्रदर्शन करने के बाद छात्रों के पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल को सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुलाकात के लिए बुला लिया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top