इटावा में दिन भर चली चेकिंग, एसएसपी को खुद सुननी पड़ी शिकायतें 

इटावा में दिन भर चली चेकिंग, एसएसपी को खुद सुननी पड़ी शिकायतें इटावा में चेकिंग अभियान के तहत पूछताछ करते पुलिस अधिकारी।

इटावा। प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार चलाया जा रहा चेकिंग अभियान जोरो पर है। अभियान के तहत इटावा में भी पुलिस पूरी तरह चौकन्ना है व जगह-जगह चेकिंग कार्य किया जा रहा है। उच्च अधिकारी भी अपने अमलों व थानों का निरीक्षण करने में लगे हैं। कलक्ट्रेट में क्षेत्राधिकारी मगन ने पुलिस बल के साथ चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान पुलिस को कोई भी संदिग्ध नहीं मिला।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शिवहरी मीना भी समय-समय पर चेकिंग अभियान चलाते रहते हैं। उन्होंने दिन में अपने ही अमले की सक्रियता जांची। इसके तहत जब अपर पुलिस अधीक्षक राम किशुन यादव के साथ वे थाना सिविल लाइन पहुंचे, तो एक भी सब इंस्पेक्टर ड्यूटी करते नहीं मिला। यहां तमाम फरियादी अपनी समस्या की शिकायत लिए खड़े थे। थाने के मुंशी बगैर दरोगा के किसी भी पीड़ित की शिकायत दर्ज करने तथा समस्या समाधान का साहस नहीं जुटा पा रहे थे। जैसे ही एसएसपी व एएसपी थाने पहुंचे तो थाने में खलबली मच गई। एसएसपी ने स्वयं पीड़ितों की शिकायतें सुनी और उनके प्रार्थना पत्र पर कार्रवाई करने के निर्देश दिये। प्रभारी निरीक्षक को भी कड़े निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें: वाहन चेकिंग अभियान में सबसे ज्यादा वसूली गाजियाबाद से

इसी के बाद दोनों उच्च अधिकारी थाना जसवंतनगर जा पहुंचे। यहां पर भी किसी सब इंस्पेक्टर के न मिलने पर उन्होंने नाराजगी जताई और पीड़ितों की समस्याओं को सुनने के बाद कार्रवाई के निर्देश दिये। उन्होंने थाने में खड़े वाहनों की सफाई तथा अतिक्रमण हटवाये जाने के भी निर्देश दिए। इस दौरान बड़ी तादाद में मौजूद पीड़ितों ने एसएसपी को शिकायती पत्र दिया और उचित कार्रवाई की मांग की।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top