पूर्वांचल के लोगों की उम्मीदों के बीच आज गोरखपुर पहुंचेंगे सीएम आदित्यनाथ योगी

Ashwani NigamAshwani Nigam   25 March 2017 12:07 PM GMT

पूर्वांचल के लोगों की उम्मीदों के बीच आज गोरखपुर पहुंचेंगे सीएम आदित्यनाथ योगीशनिवार को सीएम गोरखपुर में दौरा करेंगे (फोटो: गाँव कनेक्शन)

गोरखपुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद आदित्यनाथ योगी पहली बार शनिवार को अपनी राजनीतिक और आध्यात्मिक कर्मभूमि गोरखपुर आ रहे हैं। उनके आगमन को लेकर जहां पूरे पूर्वांचल में उत्साह है वहीं लोगों को उम्मीद है कि यहां के विकास के लिए मुख्यमंत्री कई योजनाओं का तोहफा देंगे।

32 लोकसभा और 150 से ज्यादा विधानसभा सीटों वाले पूर्वांचल में पिछले कई दशक से विकास की कोई बड़ी परियोजनाएं धरातल पर नहीं उतरी हैं। अस्सी के दशक में जब 1985 से लेकर 1988 तक वीर बहादुर सिंह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने पूर्वांचल के विकास के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की थी लेकिन उसके बाद यहां का विकास अधूरा ही रह गया। ऐसे में गोरखपुर से पांच बार सांसद और अब यूपी के मुख्यमंत्री बने तेज-तर्रार नेता आदित्यनाथ योगी से यहां के लोगों को काफी उम्मीद है।

गोरखपुर शहर में एक जान-माने दैनिक अखबार के वरिष्ठ पत्रकार संजीव कुमार सिंह ने कहा, ‘दशकों से उत्तर प्रदेश में कोई उद्योग धंधा या कारखाना नहीं लगा है। बेरोजगारी का आलम यह है कि देश के महानगरों में काम की तलाश में सबसे ज्यादा युवाओं का पलायन पूर्वांचल से ही हो रहा है। पूर्वांचल का परंपरागत उद्योग दम तोड़ चुका है। चीनी मिले बंद हैं। ऐसे में इस बार आदित्यनाथ योगी से यहां की जनता को बहुत उम्मीद है।’

बंद पड़ी चीनी मिलों को लेकर बड़ी घोषणा कर सकते हैं सीएम

गोरखपुर के गन्ना किसानों के साथ ही बंद पड़ी चीनी मिलों को लेकर भी मुख्यमंत्री बड़ी घोषणा कर सकते हैं। गोरखपुर जिले के चौरीचौरा सरदार नगर गाँव के किसान रामसेवक सिंह ने कहा, ‘इस बार जाति धर्म और क्षेत्र से उतर उठकर जनता ने बीजेपी को वोट किया है। पूर्वांचल के लोग चाहते थे कि योगी मुख्यमंत्री बने और ऐसा हुआ भी। ऐसे में उन्हें अब लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरना होगा।’ पूर्वांचल उद्योग धंधों से लेकर मेडिकल सुविधाओं और आधारभूत संरचना के विकास के मामले में प्रदेश के बाकी हिस्सों की तुलना में फिसड‍्डी है।

यहां के बड़े शहरों में पिछले एक दशक से न तो अच्छी सड़क बनी है और न ही फ्लाईओवर। स्थिति यह है कि इस पूरे क्षेत्र में बनारस और गोरखपुर में ही सिर्फ मेडिकल कॉलेज है, जिसके ऊपर पूरे पूर्वांचल का भार है। पिछले कई दशक से यहां पर कोई नया मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया है। आदित्यनाथ योगी इसके लिए आंदोलन भी करते रहे हैं। ऐसे में जब वह खुद मुख्यमंत्री हैं तो उनके सामने यहां विकास करना एक चुनौती भी है। गोरखपुर की जनता को आस है कि इस बार यहां पर विकास जरूर होगा।

कुछ ऐसा होगा सीएम का प्लान

  • मुख्यमंत्री आदित्यानाथ योगी सुबह 11 बजे विशेष विमान से गोरखपुर पहुंचेंगे।
  • सबसे पहले वह गोरखपुर के महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज में आयोजित स्वागत समारोह में शामिल होंगे।
  • उसके बाद गोरखनाथ मंदिर में आयोजित बाबा गंभीरनाथ की पुण्यतिथि के कार्यक्रम में शामिल होंगे।
  • तीन बजे बीजेपी कार्यकर्ताओं से मिलेंगे।
  • साढ़े चार बजे जीडीए सभागार में मंडल के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।
  • उसके बाद शाम सात बजे तक लखनऊ वापस आ जाएंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top