सीएम योगी पहुंचे गोरखपुर,बांटे 5129 शहरी गरीबों को आवास योजना स्वीकृत प्रमाण पत्र 

सीएम योगी पहुंचे गोरखपुर,बांटे 5129 शहरी गरीबों को आवास योजना स्वीकृत प्रमाण पत्र मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने तीन दिन के दौरे पर बुधवार को गोरखपुर पहुंचे

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने तीन दिन के दौरे पर बुधवार को गोरखपुर पहुंचे। इस दौरान वह सबसे पहले जिला अस्पताल गए, जहां उन्होंने रक्तदान कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री के साथ चिकित्सा शिक्षामंत्री आशुतोष टंडन और नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना भी रहे। मुख्यमंत्री ने 10 रक्तदाता कार्यकर्ताओं को अपने हस्ताक्षर से प्रशस्ति पत्र भी दिया।

उसके बाद वह दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय परिसर भी गए। यहां पर उन्होंने वह 5129 शहरी गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृत प्रमाण पत्र बांटे। इस योजना के तहत लाभार्थियों को तीन किश्तों में कुल ढाई लाख की धनराशी मुहैया कराई जाएगी। जिसमें दो कमरे व एक किचन का प्रावधान है।

ये भी पढ़ें- यूपी : MLC के पद छोड़ने का सिलसिला जारी, अशोक बाजपेई ने सपा भी छोड़ी

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस योजना का उद्घाटन 2015 में हुआ था लेकिन तत्कालीन प्रदेश सरकार इसे लागू नहीं किया। अब प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार की मदद से इसकी शुरुआत की है। इसे तेजी से प्रभाशाली ढंग से लागू करने में नगर विकास मंत्रालय बधाई का पात्र है।’ वहीं विकास कार्य से जुड़े नौ परियोजनाओं का लोकार्पण व 76 परियोजनाओं के शिलान्यास उन्होंने रिमोट का बटन दबाकर किया।

इन परियोजनाओं की कुल लागत 11 करोड़ 977 लाख है। इनमें सड़क व पुलिया का निर्माण भी शामिल है । मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने नारा दिया था सबका साथ सबका विकास। यह नारा हकीकत में बदल रहा है। प्रदेश सरकार विकास के प्रति शासन प्रतिबद्ध है। हम सबके सामने बड़ी चुनौती है। देश के सौ गंदे शहरों में उत्तर प्रदेश के 52 शहर हैं जबकि साफ शहरों में सिर्फ एक ही शामिल है जो 32वें पायदान पर है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।

ये भी पढ़े‍ं- त्रिपुरा बार्डर से भारत में घुसा था आतंकी अब्दुल्लाह

स्वास्थ्य, शिक्षा और सड़क के मामले भी पिछड़े हैं। इसे पटरी पर लाने के लिए प्रदेश सरकार काम कर रही है। किसानों के स्वावलंबन का प्रयास कर रहे हैं।’ कर्ज माफी इसी प्रयास का हिस्सा है। कहा कि प्राथमिक शिक्षा में सुधार की कोशिश की जा रही। बच्चों को कपड़ा बैग व किताब के साथ जूते और मोजे भी उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि वे कांन्वेंट स्कूलों के बच्चों से किसी भी मामले में कम न रहें।

दलालों पर लगेगा अंकुश, होगी सख्त कार्रवाई

मुख्यमंत्री ने सख्त लहजे में कहा कि अगर किसी योजना का लाभ देने के लिए कोई रिश्वत मांगता है तो मुख्यमंत्री कार्यालय में सीधे शिकायत करें। उस व्यक्ति को नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा। सभी से अनुरोध करूंगा खुले में शौच से मुक्ति का संकल्प लें। इसमें सभी के सहयोग की जरूरत है। जनप्रतिनिधियों से अनुरोध है वे भी इसमें रुचि लें और थन सहयोग से इसके लिए प्रयास करें।

ये भी पढ़ें- “देश बचाओ, देश बनाओ’’ यात्रा पर निकले अखिलेश, उमड़ा सैलाब

मेडिकल कॉलेज में इंसेफेलाइटिस वार्ड का किया निरीक्षण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज के इंसेफेलाइटिस वार्ड का निरीक्षण किया। वार्ड के निरीक्षण के बाद उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक भी की।

Share it
Top