एनटीपीसी हादसे में घायलों को देखने पहुंचे सीएम योगी ने कहा- करेंगे हर संभव मदद

एनटीपीसी हादसे में घायलों को देखने पहुंचे सीएम योगी ने कहा- करेंगे हर संभव मददसिविल अस्पताल में सीएम योगी, बाहर तैनात सुरक्षा गार्ड।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रायबरेली में ऊंचाहार स्थित एनटीपीसी पावर प्लांट में हुए हादसे के घायल लोगों से लखनऊ के विभिन्न अस्पतालों में मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि पीड़ित लोगों की सरकार हर संभव मदद करेगी।

एक नवंबर को एनटीपीसी में ब्यालर फटने से कई मजदूरों और कर्मचारियों की मौके पर मौत हो गई थी, जबकि 100 लोग घायल हो गए थे। घायलों को लखनऊ के एसजीपीआई, सिविल अस्पताल और केजीएमयू में भर्ती कराया गया है।

जिस दिन हादसा हुआ मुख्यमंत्री योगी प्रवासी भारतीय दिवस में शामिल होने के लिए मॉरीशस गए थे, आज विदेश से लौटने के बाद वो घायलों से मिलने पहुंचे थे। सीएम योगी ने पहले एसजीपीआई में मरीजों का हाल पूछा और डॉक्टरों ने उनके इलाज के बाद में अपडेट लिया। सीएम योगी ने डॉक्टरों और अधिकारियों को निर्देश दिया है कि घायलों के इलाज में किसी तरह की कोताही न हो।

एसजीपीआई के बाद मुख्यमंत्री हजरतगंज स्थित सिविल अस्पताल पहुंचे। यहां घायलों से मुलाकात के बाद सीएम ने पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा घायलों की जितनी हो सकेगी मदद की जाएगी, ये हादसा दुखद है।

NTPC

सीएम योगी ने हादसे के बाद मामले पर संज्ञान लेते हुए तत्काल मरीजों को हर संभव मदद का भरोसा दिया था। सरकार ने घटना पर दुख जताते हुए मृतकों को आश्रितों को तत्काल 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और घायलों को 50 जबकि सामान्य घायलों को 25-25 रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की थी।

बीते बुधवार को हुए इस हादसे में अब तक 33 लोगों की मौत की हो चुकी है, जबकि 60 मरीज घायल हैं, जिनका लखऩऊ में इलाज चल रहा है। कुछ घायलों को एयर एंबुलेंस से दिल्ली भी भेजा गया है।

ऊर्जा मंत्रालय ने हादसे की जांच के लिए 3 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है, जो एक महीने में अपनी रिपोर्ट देगी। हादसे के अगले दिन मौके पर पहुंचे केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने कहा था कि हादसे जांच में दोषी पाए जाने वालों को बक्शा नहीं जाएगा।

इस हादसे में एनटीपीसी के कुछ अधिकारियों का लापरवाही सामने आई है। बतााय जा रहा है, यूनिट में राख निकालने वाली पाइप में खराबी थी उसके बावजूद यूनिट चलाई गई, जिसके चलते पाइप और ब्वायर फटा। फिलहाल जांच रिपोर्ट का इंतजार है।

संबंधित ख़बरें

हमें एनटीपीसी से पूछने हैं ये 15 सवाल

एनटीपीसी विस्फोट: ‘किसी इंसान को पिघलाने के लिए पर्याप्त थी गर्मी’

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top