Top

सब्जियों और फलों का संरक्षण अब होगा आसान

Rishi MishraRishi Mishra   5 Aug 2017 9:10 PM GMT

सब्जियों और फलों का संरक्षण अब होगा आसानसत्यदेव पचैरी द्वारा फल, फूल एवं सब्जियों की पैकेजिंग एवं भण्डारण के लिए सामान्य सुविधा केन्द्र का लोकार्पण।

लखनऊ। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम तथा निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सत्यदेव पचोरी ने कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकार प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा देने व प्रदेश से निर्यात को बढ़ाने के लिए कृत संकल्पित है। उद्योगों के विकास के साथ साथ कृषि एवं औद्यानिक उपजों को व्यवसायिक स्वरूप देकर किसानों का आर्थिक सशक्तीकरण सरकार की महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं में है।

इसी कड़ी में एसाइड योजनान्तर्गत फलों, फूलों एवं सब्जियों के संरक्षण, पैकेजिंग एवं प्रसंस्करण के लिए लखनऊ में सामान्य सुविधा केन्द्र को स्थापित कराया गया है। इस सामान्य सुविधा केन्द्र द्वारा कृषकों उद्यमियों एवं निर्यातकों को अत्याधुनिक प्रशीतन, प्रस्संकरण एवं पैकेजिंग की सुविधाओं के साथ साथ गुणवत्ता नियंत्रण, परामर्श एवं प्रशिक्षण की सुविधा मिलेगी।

ये भी पढ़ें- फल संरक्षण के मामले में यूपी फिसड्डी


श्री पचोरी ने आज एसाइड योजनान्तर्गत फल, फूल एवं सब्जियों की पैकेजिंग एवं भण्डारण हेतु ग्राम सादुल्ला नगर, हरौनी, मोहान रोड, लखनऊ में स्थापित सामान्य सुविधा केन्द्र प्रसंस्कृत एवं फ्रोजेन कराकर इनको राष्ट्रीय, अन्तर्राष्ट्रीय बाजारों में बेचकर उत्पादों का लाभकारी मूल्य प्राप्त कर सकेंगे। किसान इसके माध्यम से अपने उत्पादों की शेल्फ लाइफ भी बढ़ा सकेंगे, जिससे उचित समय पर इनको बेचकर लाभप्रद मूल्य प्राप्त कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि यह परियोजना लखनऊ एवं आस-पास के सब्जियों, फलों एवं फूलों के उत्पादकों को अपनी सेवाएं प्रदान कर उनकी आय बढ़ाने के साथ-साथ प्रदेश से निर्यात में आशातीत बढ़ोत्तरी में सहायक होगी।
प्रमुख सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम अनिल कुमार ने कहा कि परियोजनान्तर्गत सम्बद्ध किये गये कृषक उद्यमी एवं निर्यातक समूहों को आधुनिक उत्पादन तकनीकों एवं विपणन रणनीतियों से सम्बन्धित परामर्श एवं प्रशिक्षण दिया जाये ताकि अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो सके। उन्होंने कहा कि यह परियोजना किसानों की उपज को औद्योगिक प्रक्रियाओं से जोड़ेगी। किसानों के उत्पादों को लाभप्रद मूल्य दिलाने तथा निर्यात बाजार तक पहुंचाने की यह एक महत्वपूर्ण कड़ी है।

ये भी पढ़ें- सब्जी उत्पादन में भारत होगा नंबर वन


इस अवसर पर विशेष सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम आर.पी. सिंह, अपर आयुक्त निर्यात प्रोत्साहन आर0के0 सिंह, उपायुक्त जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केन्द्र लखनऊ सर्वेश्वर शुक्ला उपस्थित थे।

टमाटर मार्केट इंटेलीजेंस परियोजना : 14 साल से हो रही है रिसर्च, क्यों इतनी तेजी से बढ़ते हैं रेट

यूपी में हर साल बर्बाद होती हैं 20 फीसदी हरी सब्जियां

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.