ठेकेदार विद्युत संविदा कर्मियों के साथ कर रहे ज्यादती, डीएम ने सहायक श्रमायुक्त को जांच के लिए किया निर्देशित 

Dr. Puneet ManishiDr. Puneet Manishi   1 Jun 2017 5:01 PM GMT

ठेकेदार विद्युत संविदा कर्मियों के साथ कर रहे ज्यादती, डीएम ने सहायक श्रमायुक्त को जांच के लिए किया निर्देशित संविदा कर्मियों ने जिला अधिकारी से मुलाकात कर उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया।

शाहजहांपुर। विद्युत उपकेंद्र खुदागंज के संविदा कर्मियों ने मंगलवार को जिला अधिकारी नरेंद्र कुमार सिंह से मुलाकात कर उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराया। संविदा कर्मियों ने बताया कि उन्हें विभाग वर्ष में केवल दो बार 10 -10 हजार रुपए करके मानदेय देता है और जेई के निर्देश पर ठेकेदार के द्वारा सादे स्टांप पेपर पर हस्ताक्षर करा लिए जाते हैं और उसमें लिखवा दिया जाता है कि संविदाकर्मी ने 10 हजार रुपए बीमारी के लिए उधार लिए तो कभी 25 हजार बच्चों की शिक्षा के लिए उधार लिए जबकि वास्तव में उन्होंने कभी भी कोई पैसा उधार नहीं लिया।’’

ये भी पढ़ें- गृह मंत्रालय करेगा अमरनाथ यात्रा के सुरक्षा इंतजामों पर बैठक

जिलाधिकारी ने पूछा कि जब उधार नहीं लिया है तब स्टांप पेपर पर हस्ताक्षर क्यों करते हो ? संविदा कर्मियों ने बताया, “साहब लालच यह है कि हो सकता हम भी किसी दिन परमानेंट हो जाएं इसी लालच में हस्ताक्षर कर देते हैं। ड्यूटी के दौरान विद्युत करंट लग जाने से लाखों रुपए उन्हें खुद लगाने पड़ते हैं परंतु विभाग ने कोई भी क्षतिपूर्ति नहीं दी, बल्कि उल्टा यह कह दिया कि विभाग की कोई जिम्मेदारी नहीं होती है। जिलाधिकारी ने तुरंत ही सहायक श्रमायुक्त को जांच के लिए निर्देशित कर दिया।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top