उत्तर प्रदेश

नहीं मिल सका योजना का लाभ 

ज्ञानेश शर्मा,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

अलीगढ़। डॉ. राम मनोहर लोहिया समग्र ग्राम विकास योजना का मुख्य उद्देश्य उन गरीब परिवारों को आवास उपलब्ध कराना है, जिनके पास सिर छिपाने के लिए छत नहीं है। लेकिन गरीबों को इस योजना का लाभ नहीं मिल रहा है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

अलीगढ़ के ब्लॉक बिजौली की ग्राम सभा दताचोली बुजुर्ग में कुछ ऐसे गरीब तबके के लोग रह रहे हैं, जो अपने जीवन में पक्की ईंट या सिर पर छत पाने की लालसा पाले हुये हैं, लेकिन शायद उनको इन योजनाओं का लाभ कभी मिल पायेगा। ब्लॉक बिजौली के दताचोली गाँव के निवासी सुनहरी पुत्र भागीरथ अपनी पत्नी आरती के साथ दूसरे की दीवार पर लकड़ी के ऊपर प्लास्टिक की पिन्नी डालकर जीवन यापन कर रहे हैं।

ग्रहणी आरती ने बताया, “भला हो सरकार का जिसने एक शौचालय बनवाया है। इस शौचालय में खाने पीने का सामान आटा आदि रखकर ताला लगा देते हैं।” वहीं गाँव के लाइक सिंह पुत्र श्रवण सिंह, सुनीता पत्नी बनी सिंह यह सब झोपड़ी में ही निवास करते हैं।

खण्ड विकास अधिकारी पंकज यादव बताते हैं, “कुछ अपात्र लोगों को इन्द्रा आवास तथा लोहिया आवास आवंटित कर दिये गये हैं, जिनके पास जमीन और पक्के मकान हैं। सन 2011 में बनायी गयी सूची के आधार पर आवासों के चयन का कार्य किया गया है, उन्हीं लोगों को आवास दिये गये हैं जिनका नाम था। यदि कोई योजना इस तरह की आती है तो इन गरीबों को प्राथमिकता के आधार पर आवास की सूची में शामिल किये जायेंगे।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।