शिक्षा विभाग पर पौने तीन करोड़ ,विकास भवन पर डेढ़ करोड़ रूपए बकाया, कनेक्शन काटने की दी गई चेतावनी  

शिक्षा विभाग पर पौने तीन करोड़ ,विकास भवन पर डेढ़ करोड़ रूपए बकाया, कनेक्शन काटने की दी गई चेतावनी  साभार: इंटरनेट।

नवनीत अवस्थी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। बिजली बकाएदार सरकारी महकमों के खिलाफ विद्युत विभाग ने सख्ती शुरू कर दी है। इस कड़ी में संबंधित बाकाएदार विभागों को पत्र भेजकर बिजली का बिल जल्द जमा करने को कहा गया है। अगर समय रहते बकाया जमा नहीं होगा तो कार्यालयों की बिजली काट दी जाएगी।

विद्युत विभाग के बकाएदारों की फेहरिस्त में शिक्षा, विकास, पुलिस, कारागार, स्वास्थ्य, न्याय, जिला प्रशासन, वन सहित कई अन्य सरकारी विभाग हैं। पावर कारपोरेशन के कड़े रुख के बाद विद्युत विभाग जल्द ही बड़े सरकारी बकाएदारों से बकाया वसूलने की कवायद शुरू करने जा रहा है। विभागीय सूत्रों की मानें तो विद्युत विभाग के बकायेदारों में 2.83 करोड़ की धनराशि के साथ शिक्षा विभाग सबसे अव्वल है। इसके बाद 1.59 करोड़ के साथ विकास भवन दूसरे नंबर पर है। पुलिस महकमे पर 50 लाख रुपए का बकाया है, वहीं जिला अस्पताल पर 70 लाख रुपए का बकाया है।

ये भी पढ़े- बरसात में करंट के खतरों को टालने के लिए बिजली विभाग ने शुरू की कवायद

डीएम कार्यालय करीब 11 लाख, पीडब्ल्यूडी 3-4 लाख, न्याय 9 लाख के अलावा कृषि, वन विभाग व सिंचाई विभाग भी लाखों रुपये की बकाए की रकम के साथ लाइन में हैं। पावर कारपोरेशन ने इसको संज्ञान में लेते हुए वसूली के आदेश दिए हैं। एक्सईएन प्रथम आरके कृष्णानी ने बताया, “जिला अस्पताल को छोड़कर अन्य सरकारी बकाएदारों की बिजली काटने के आदेश मिले हैं। अब तक जिन विभागों ने पैसा जमा किया है, उसको घटाकर बिजली बिल देने की कवायद शुरू कर दी गई है। यदि जल्द बिजली जमा नहीं हुआ तो सरकारी विभागों की बिजली काट दी जाएगी।”

सरकारी कर्मचारियों पर लाखों की बकाएदारी

सरकारी कालोनियों में रहने वाले कर्मचारियों पर भी लाखों की बकाएदारी है। सूत्रों के मुताबिक अधिकांश सरकारी कर्मचारी डीएसएन कालेज रोड स्थित टाईप टू कालोनी और आफीसर्स कालोनी में रहते हैं। इनमें से अधिकांश ने सालों से बिजली का बिल जमा नहीं किया है। विभाग अब इन कर्मचारियों पर भी शिकंजा कसने जा रहा है।

बिजली चोरी करते पकड़े गए तीन उपभोक्ता

उपखंड अधिकारी द्वितीय मनीष यादव ने टीम के साथ भूरीदेवी मोहल्ले में चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान तीन उपभोक्ता बिजली चोरी करते पकड़े गए। एसडीओ ने बताया कि माशूक अली ने मौके पर ही 4 हजार शमनशुल्क जमा कर दिया। जबकि दो अन्य सायरा बानो पत्नी मो. अली और अमित कुमार के खिलाफ बिजली चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कोतवाली में तहरीर दी है। चेकिंग के दौरान जेई विनय रावत समेत अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

ये भी पढ़े- मुलायम सिंह के घर पहुंचे बिजली विभाग के अफसर, थमाया 4.10 लाख बकाए का नोटिस

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top