साइबर क्राइम सेल में पेपर लीक होने का मुकदमा दर्ज होगा

साइबर क्राइम सेल में पेपर लीक होने का  मुकदमा दर्ज होगासाइबर क्राइम। (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पुलिस भर्ती की ऑनलाइन परीक्षा का प्रश्नपत्र सोशल मीडिया पर लीक हो जाने के चलते डीजीपी सुलखान सिंह ने पूरी परीक्षा प्रक्रिया को ही रद्द कर दिया है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने मंगलवार को बताया कि परीक्षा कराने वाली कंपनी का सिस्टम हैक करके पेपर लीक किया गया है। परीक्षा आयोजित कराने वाली आईटी कंपनी हजरतगंज स्थित साइबर सेल थाने में एफआईआर दर्ज करेगी। इस पूरे मामले की जांच यूपी एसटीएफ और पुलिस के अच्छे जांच अधिकारी करेंगे।

उत्तर प्रदेश में दरोगा भर्ती 2017 की ऑनलाइन परीक्षा में भी नकल माफियाओं ने सेंध लगा दी है। परीक्षा के पेपर लीक होने के बाद 3307 पदों के लिए हो रही दरोगा भर्ती परीक्षा पूरी तरह रद्द कर दी गई है। डीजीपी सुलखान सिंह ने परीक्षा रद्द करने के साथ ही मामले में एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दी गई है। इस मामले में एडीजी एलओ आनंद कुमार ने बताया कि, परीक्षा कराने वाली कंपनी एफआईआर दर्ज कराएगी।

ये भी पढ़ें-आतंकियों और अपराधियों का पनाहगाह बनी राजधानी

एफआईआर साइबर सेल थाने में दर्ज होगी। उन्होंने बताया कि शुरुआती जानकारी के अनुसार कंपनी का सिस्टम हैक पेपर लीक किया गया है। जांच में यूपी एसटीएफ के साथ अन्य तेज तर्रार जांच अधिकारी भी शामिल किए जाएंगे। पूरे मामले की जांच यूपी एसटीएफ की देखरेख में होगी। ज्ञात है कि, 25 और 26 जुलाई को होने वाली ऑनलाइन परीक्षा स्थगित की गई थी। ऑनलाइन परीक्षा का पेपर सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यह फैसला लिया गया। पेपर लीक होने की सूचना कुछ अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री और डीजीपी को ट्विटर पर दी थी। जिसके बाद इसकी जानकारी यूपी पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड तक पहुंची और परीक्षा स्थगित करने का फैसला लिया गया था।

इससे पहले पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के चेयरमैन वीरेन्द्र कुमार ने बताया था कि, मंगलवार और बुधवार को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई है। अभी नई तिथियों की जानकारी नहीं दी गई है। बोर्ड के चेयरमैन की मानें तो परीक्षा कराने वाली एजेंसी एनएसआईटी आंतरिक एंटी साइबर सेल से मामले की जांच करा रही है।

22 जिलो में यह परीक्षा कराई जानी थी। मंगलवार और बुधवार को एक लाख 20 हजार छात्रों को इस परीक्षा में शामिल होना था। ऑनलाइन परीक्षा रद्द होने की सूचना विभिन्न माध्यमों से छात्रों को दे दी गई है। बताते दे कि, सीधी भर्ती 2016 के तहत होने वाली इस परीक्षा में नागरिक पुलिस में पुरुष के लिए 2400 पद, महिलाओं के लिए 600 पद, पीएसी के प्लाटून कमांडर के लिए 210 पद और अग्निश्मन अधिकारी के 97 पदों के लिए आवेदन किए गए थे।

ये भी पढ़ें- : गूगल के एक क्लिक पर यूपी में रोके जा सकते हैं बढ़ते अपराध

संबंधित खबर : बीते तीन वर्षों में रेल परिसरों, गाड़ियों में अपराध के 83 हजार से अधिक मामले सामने आए

Share it
Share it
Share it
Top