दीनदयाल पार्क से गायब हो गए1500 प्रजाति के वृक्ष, अफसर खा गए रखरखाव का बजट

दीनदयाल पार्क से गायब हो गए1500 प्रजाति के वृक्ष, अफसर खा गए रखरखाव का बजटपार्क से गायब हो गए पेड़।

लखनऊ। अल्पसंख्यक कल्याण, सिंचाई, सिचांई यांत्रिक राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख ने शनिवार को पीजीआई स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय पार्क का निरीक्षण किया। सिंह ने पार्क की दयनीय स्थिति को देखकर रोष व्यक्त किया और अधिकारियों तत्काल पार्क की सफाई एवं सुधार कराने का निर्देश दिया।

उन्होंने 10-12 साल से वीरान पड़े पार्क की दशा को सुधारने एवं जनता के घूमने एवं टहलने तथा व्यायाम करने के लिए सभी आवश्यक सुविधाओं को तत्काल दुरुस्त करने का निर्देश दिया।
सिंह ने मौके पर उपस्थित अधिकारियों को पिछले 10 सालों में पार्क के रखरखाव एवं साफ-सफाई आदि के लिए आवंटित किए बजट का विस्तृत ब्योरा प्रस्तुत करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि यदि बजट का दुरुपयोग किया गया है तो सम्बंधित अधिकारी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सिंह ने कहा कि 25 अगस्त तक पार्क की दशा में सुधार एवं बन्द पड़े फाउंटेन तथा झूला को दुरुस्त करके चालू कर दिया जाएं। इसके साथ ही उन्होंने 1500 प्रकार की प्रजाति के लगाए गए पौधे के नगण्य पाये जाने एवं टूटे-फूटे गमलों को देखकर भी कड़ा रोष व्यक्त किया।

ये भी पढ़ें:यूपी: रायबरेली में नदी में डूबने से हुई मासूम की मौत

सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि पार्क की बुकिंग शादी एवं अन्य कार्यक्रमों के आयोजन के लिए किया जाए ताकि उ0प्र0 सरकार को राजस्व की प्राप्ति भी हो सकें। उन्होंने कहा कि पं0 दीन दयाल उपाध्याय का जन्म शताब्दी वर्ष मनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री भी कभी पार्क का आकस्मिक निरीक्षण कर सकते हैं। निरीक्षण के दौरान मुख्य अभियंता शरदा सहायक, अधीक्षण अभियंता, अधिशासी अभियंता तथा अन्य कर्मचारी/अधिकारी उपस्थित थे।

Share it
Share it
Share it
Top