सहारनपुर विवाद : भीम आर्मी के समर्थन में जंतर मंतर पर हजारों लोगों का प्रदर्शन

सहारनपुर विवाद : भीम आर्मी के समर्थन में जंतर मंतर पर हजारों लोगों का प्रदर्शनजन्तर मन्तर पर हजारों की संख्या में देश भर से  दलित समुदाय के लोग पहुंचे हैं। फोटो- साभार फेसबुक दिलीप सी मंडल

लखनऊ। सहारनपुर में 5 मई को हुआ जातीय संघर्ष अब दिल्ली पहुंच गया है। दलित समर्थक भीम आर्मी के समर्थन में हज़ारों को संख्या में लोग जंतर-मंतर पहुंचकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शन में भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद भी पहुंचे।

5 मई के दिन शब्बीरपुर में महाराणा प्रताप की शोभायात्रा के दिन दलित समुदाय और राजपूत समुदाय के बीच विवाद शुरू हुआ जिसके बाद हज़ारों की संख्या में पहुंचे राजपूत समुदाय के लोगों ने दलितों के घरों में आग लगा दिया।

ये भी पढ़िए- भीम आर्मी दलितों की आवाज़ या कुछ और?

घटना में पीड़ितों को मुआवजा मिले इसको लेकर दलितों के पक्ष में काम करने वाले भीम आर्मी ने 9 मई को महापंचायत बुलाया जिसको पुलिस रोकना चाहिए। पुलिस और भीम आर्मी में विवाद हो गया। पुलिस का आरोप है कि भीम आर्मी ने आगजनी की और पुलिस को भी परेशान किया। इस घटना के बाद भीम आर्मी के प्रमुख गायब थे।

सहारपुर हिंसा के बाद हुलिया बदलकर रह रहा है चंद्रशेखर (फोटो- बीबीसी हिंदी से साभार)

गिरफ्तारी से बचने के लिए चंद्रशेखर ने अपना हुलिया बदल लिया था लेकिन आज वो जंतर मंतर पर पहुंच सबको अचंभित कर दिया। जन्तर मंतर पहुंच चंद्रशेखर कहा कि ‘‘अपने समाज की लड़ाई के लिए अगर पुलिस मुझे नक्सली कहती हैं तो मुझे नक्सली बनना स्वीकार है।’’ गौरतलब है कि पुलिस ने भीम आर्मी पर नक्सलियों से सम्बन्ध होने का आरोप लगाई है।

सहारनपुर के एसएसपी सुभाष चन्द्र दुबे चंद्रशेखर को गिरफ्तार करने के मसले पर गाँव कनेक्शन से बातचीत करते हुए कहते हैं कि ‘‘ यह आरोपी या कोई तीसरा थोड़े तय करेगा कि उसे कहाँ गिरफ्तार करना है। जब हमें गिरफ्तार करना होगा हम गिरफ्तार कर लेंगे।

सहारनपुर का दर्द: ‘वो लोग मेरी छाती पर तलवार मारना चाहते थे’

Share it
Top