उन्नाव जिलाधिकारी के आदेश को भी नहीं मान रहे अफसर

उन्नाव जिलाधिकारी के आदेश को भी नहीं मान रहे अफसरपिछले दिनों जिलाधिकारी ने नवाबगंज स्वास्थ्य केंद्र का किया था निरीक्षण।

कुलदीप यादव, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

उन्नाव। स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार हो सके इसके लिए लगातार अधिकारियों द्वारा अस्पतालों का निरीक्षण किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान अस्पतालों में मिली कमियों को दूर करने के निर्देश भी दिए जाते हैं, लेकिन उन निर्देशों को हवा में उड़ा दिया जाता है।

पन्द्रह दिन पूर्व नवाबगंज सीएचसी के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने जिन अव्यवस्थाओं की ओर इशारा कर सुधार के निर्देश दिए थे, उन्हें जिम्मेदारों ने हवा में उड़ा दिया है। अस्पताल में सफाई व्यवस्था नहीं सुधर पा रही है। शौचालय की सफाई व्यवस्था को लेकर डीएम ने जो आदेश जारी किए थे उनका भी अनुपालन नहीं हो पा रहा है। नवाबगंज के रहने वाले उदयभान (60 वर्ष) बताते हैं, ‘जिलाधिकारी के निरीक्षण के बाद लगा था कि अस्पताल के हालात सुधार जाएंगे, लेकिन ऐसा कुछ न हुआ।’

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

डीएम अदिति सिंह के निरीक्षण के दौरान कई सारी कमियां मिली थीं। जिस पर उन्होंने सीएमओ व अन्य स्वास्थ्य अधिकारियों की मौजूदगी में सुधार के निर्देश दिए थे। सुधार न होने पर उन्होंने चिकित्सा प्रभारी डॉ. अखिलेश विक्रम को हटाने के निर्देश भी दिए थे।

निरीक्षण के दौरान डीएम अदिति सिंह के सख्त तेवर देखते हुए स्वास्थ्य अधिकारियों ने तय समय के अंदर कमियों में सुधार कर लेने का आश्वासन भी दिया था हालांकि समय बीतने के बाद अधिकारी उसे भूल बैठे। तीस मार्च को जिलाधिकारी द्वारा स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के दौरान शौचालय की सफाई व्यवस्था को लेकर डीएम ने दिन में दो बार सफाई कराने के साथ ही शौचालय के बाहर एक रजिस्टर रखने के निर्देश दिए थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top