सहारनपुर हिंसा के बाद पश्चिमी यूपी के जिले अलर्ट पर, प्रशासन मुस्तैद

सहारनपुर हिंसा के बाद  पश्चिमी यूपी के जिले अलर्ट पर, प्रशासन मुस्तैदसहारनपुर में हुए हिसा की एक तस्वीर। फोटो: साभार इंटरनेट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश का सहारनपुर जनपद में कई दिनों से जारी हिंसा की आग धीरे-धीरे पूरे पश्चिमी यूपी को अपने चपेट में लेने लगी है। शायद यही कारण है कि पश्चिमी यूपी के जिलों में अलर्ट जारी करते हुए प्रशासन को मुस्तैद कर दिया गया। हाल ही में मंगलवार को शामली जिले में भी इस तरह के हिंसा के उदाहरण देखने को मिला।

यहां थानाभवन के गांव रशीदगढ़ में कुछ शरारती तत्वों ने डाक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त कर दी। इससे दलित समाज में आक्रोश फैल गया और उन्होंने जमकर हंगामा किया। कई घंटे तक तनाव की स्थिति बनी रही। हालांकि देर रात तक प्रशासन ने हालात पर काबू पा लिया। वहीं शामली जिले के एसपी डॉ. अजय पाल के मुताबिक, अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस की टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश जारी है, जिन्हें जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

पश्चिम यूपी में करीब 15 जिले हैं, जहां शासन की ओर से सभी जनपदों के अधिकारियों को खास चौकसी रखने के निर्देश दिए गए हैं। शायद अधिकारियों को इस बात का डर सता रहा है कि, उपद्रवी कहीं अफवाह फैला कर दूसरे जिलों को भी इस हिंसा की आग में न झोंक दें। इसे देखते हुए सभी जिलों की पुलिस अलर्ट पर है और साथ ही सोशल मीडिया पर भी कड़ी नजर रखी जा रही है। साम्प्रादायिक हिंसा का ऐसा ही एक वाकया सहारनपुर जिले में भी बीते कुछ दिनों से देखने को मिल रही है। इसका फायदा उपद्रवी शहर के महौल को खराब करके उठा रहें हैं और हिंसा की भड़की आग को अब धीरे-धीरे दूसरे जिलों में भी फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: जातीय हिंसा की आग से झुलस रहा सहारनपुर

ताजा मामला सहारनपुर के पास शामली जनपद का है, जहां कुछ अराजकतत्वों ने बीते मंगलवार रात थाना भवन के गांव रशीदगढ़ में डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। मूर्ति तोड़े जाने की सूचना शहर में जंगल में आग की तरह फैली गई। ये मामला इतना अधिक बढ़ गया की मौके पर कई थानों की फोर्स को बुलाकर पूरी स्थिति को नियंत्रण में किया गया और प्रशासन के द्धारा आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन देने पर ही पूरा हंगामा खत्म हुआ। ये उपद्रवी पश्चिम यूपी में सोशल मीडिया पर भी सक्रिय हैं, जो पल-पल की घटनाओं को वाट्सएप के जरिए फैलाने का काम कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: सहारनपुर में बिना इजाजत जुलूस निकालने पर हुआ बवाल, आगजनी और तोड़फोड़ भी

आपको बता दें कि सोशल मीडिया के जरिए फैलाए जा रहे इस हिंसा की आग को रोकना प्रशासन के लिए भी बड़ी चुनौती बनी हुई है। साथ ही पश्चिम यूपी के मेरठ, बागपत, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर, गाजियाबाद, हापुड़, अमरोहा सहित कुल 15 जिले अलर्ट पर हैं, क्योंकि इन जनपदों में मुस्लिम आबादी करीब 30 से 40 फीसदी है। हालांकि सहारनपुर में गुरुवार से हालात सामान्य बना हुआ है। प्रशासन ने सोशल मीडिया से लेकर अराजकतत्वों पर अपनी कड़ी नजर रख रखी है, जिसके चलते शहर में कोई भी अप्रिय घटना होने की सूचना नहीं मिली।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top