सब्जियां हुई महंगी, टमाटर और लाल, करेला हुआ कड़वा 

सब्जियां हुई महंगी, टमाटर और लाल, करेला हुआ कड़वा प्रतीकात्मक तस्वीर।

लखनऊ। बारिश होने के बाद एक फिर सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। सब्जियां महंगी होने की वजह से रसोई घर का जायका बिगड़ गया है। बढ़ी कीमती के कारण टमाटर और लाल हो गया है। यही वजह है कि कइयों की थाली में सलाद से टमाटर गायब हो गया है।

बढ़ी कीमत के कारण गरीबों की थाली तो सब्जियां नदारद हो गई हैं। वहीं महिलाओं का कहना है कि चंद ही दिनों में सब्जियों की कीमतों में काफी तेजी आई हैं, जिस कारण गरीब लोगों ने सब्जियां खाना बंद ही कर दिया है। उन्होंने कहा कि पहले इन दिनों सब्जियों के दाम काफी कम होते थे और हर कोई सब्जियों का इस मौसम में भरपूर इस्तेमाल करता था। मौजूदा समय में टमाटर के दाम ही इतने बढ़ गए हैं कि लोगों ने टमाटर का इस्तेमाल करना ही बंद कर दिया है।

ये भी पढ़ें- सरकारी नौकरी छोड़ अब एलोवेरा की खेती से सालाना कमाते हैं दो करोड़

वहीं, सब्जी विक्रेता ने कहा कि सब्जियों के दाम बढ़ने से कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। पहले एक दिन में खाली टमाटर ही साठ से अस्सी किलोग्राम तक बिक जाता था। अब मुश्किल से पांच से सात किलोग्राम ही बिक रहा है। पीछे से ही सब्जियां महंगी आ रही हैं तो उन्हें मजबूरन महंगे दामों पर बेचना पड़ रहा है।

बीते सप्ताह तक जो सब्जी एक महीने पहले 10-15 रुपए प्रतिकिलो मिल जाती थी वह अब 30 से लेकर 60 रुपए किलो तक बिक रही है। वहीं महंगाई के कारण टमाटर तो लाल ही हो गया है। 30 से लेकर 60-80 रुपए प्रति किलो टमाटर के दाम पहुंचने के कारण अब यह थाल से टमाटर नदारत हो गया है। लोगों ने इसके स्थान पर अमचूर, इमली का उपयोग करना शुरू कर दिया है। हरी सब्जियों सहित लगभग सभी सब्जियों के दाम मात्र एक सप्ताह में बढ़ गए हैं। वैसे लगभग हर साल गर्मियों में सब्जियों के भाव आमतौर पर बढ़ ही जाते हैं, लेकिन इस सीजन में बरसात होने के बाद सब्जी के दाम औसत से ज्यादा बढ़े हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top