सहारनपुर में जातीय संघर्ष के बाद नेट बैन, लेकिन इस कंपनी ने नहीं बंद किया इंटरनेट

Basant KumarBasant Kumar   25 May 2017 12:27 PM GMT

सहारनपुर में जातीय संघर्ष के बाद नेट बैन, लेकिन इस कंपनी ने नहीं बंद किया इंटरनेटप्रतीकात्मक तस्वीर

सहारनपुर। जिले में जातीय संघर्ष को बढ़ने से रोकने के लिए बुधवार रात इंटरनेट सेवा बंद करने का आदेश होने के बावजूद जिओ नेटवर्क काम कर रहा है। 5 मई के बाद जनपद में एक के बाद एक जातीय संघर्ष पर काबू पाने में नकाम रही योगी सरकार ने बुधवार रात जनपद के जिलाधिकारी और एसएसपी सहित कई अधिकारीयों का तबादला कर दिया।

तबादले के पूर्व तत्कालीन जिलाधिकारी एन पी सिंह ने शांति कायम होने तक इंटरनेट सेवा बंद करने का आदेश दिया था। जिलाधिकारी के आदेश के बाद जिले में जहाँ बाकी नेटवर्क का डेटा बंद है वहीं जिओ के नेटवर्क में इंटरनेट अभी भी चल रहा है।

ये भी पढ़ें : सहारनपुर हिंसा : शब्बीरपुर के लोगों ने कहा, बाहरी लोगों ने दी चिंगारी को हवा

जिओ के नेटवर्क में इंटरनेट चल रहा है इसकी जानकरी मुझे नहीं है। मैं तत्काल पता कर इस पर प्रतिबन्ध लगाता हूँ। तकनीकी कामों में थोड़ा वक़्त लग सकता है लेकिन मैं इसपर तत्काल बातचीत करता हूँ।
प्रमोद कुमार पांडेय, जिलाधिकारी, सहारनपुर

सहारनपुर जिले से दो किलोमीटर दूर और 9 मई के दिन पुलिस और भीम आर्मी के सदस्यों के बीच हुए संघर्ष का गवाह रहा रामनगर नया गाँव के रहने वाले हसीब नय्यब बताते हैं कि हमारे यहाँ कल रात से बाकी कम्पनियों का नेट नहीं चल रहा लेकिन जिओ का चल रहा है। हसीब खुद जिओ इस्तेमाल करते है। शब्बीरपुर गाँव के रहने वाले प्रदीप कुमार ( 25 वर्ष ) बताते हैं कि मेरा जिओ अच्छे से चल रहा है। नेटवर्क भी ठीक ही आ रहा है।

सहारनपुर हिंसा में जला एक घर

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इस सम्बन्ध में जब गाँव कनेक्शन ने जिलाधिकारी प्रमोद कुमार पांडेय से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि जिओ के नेटवर्क में इंटरनेट चल रहा है इसकी जानकरी मुझे नहीं है। मैं तत्काल पता कर इसपर प्रतिबन्ध लगाता हूँ। तकनीकी कामों में थोड़ा वक़्त लग सकता है लेकिन मैं इसपर तत्काल बातचीत करता हूँ।

सहारनपुर में जहाँ स्थिति समान्य हो चुकी थी वहीं मायावती की रैली के बाद हुए संघर्ष में एक व्यक्ति की मौत और दो व्यक्ति के घायल होने के बाद हत्या और संघर्ष पर काबू पाने के लिए पुलिस महकमा तेजी से काम कर रहा है। शब्बीरपुर छावनी में तब्दील है। वरिष्ठ अधिकारी लखनऊ से सहारनपुर पहुंचे हुए हैं। प्रदेश गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा ने चौबीस घंटे में हालात बदलने की बात कही है।

फरवरी 2017 में आई एक रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस जिओ उपयोगकर्ताओं के मामले में दूसरी टेलीकॉम कम्पनी बन गया है, जो भारतीय बाजार में 23 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी हासिल कर रहा है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top