देश की सुरक्षा के लिए सरकार का अहम फैसला, हर नए हाईवे पर लड़ाकू विमानों की होगी लैंडिंग

देश की सुरक्षा के लिए सरकार का अहम फैसला, हर नए हाईवे पर लड़ाकू विमानों की होगी लैंडिंगभारतीय वायु सेना

नई दिल्ली। देश में जो भी नया हाईवे बनाया जा रहा है उसमें लड़ाकू विमानों की लैंडिंग मुमकिन होगी। इसी श्रेणी में मंगलवार को सुबह 10 बजे आगरा-लखनऊ ताज एक्सप्रेस-वे पर एक के बाद एक एयर फोर्स के कई विमान टच डाउन कर निकले। सबसे पहले दुनिया के सबसे बड़े मालवाहक जहाज C130J सुपर हरक्यूलिस विमान ने लैंड किया। इसके बाद एक के बाद एक मिराज, जेगुआर और सुखोई जेट्स के फ्लीट ने एक्सप्रेस वे को टच डाउन किया और वापस अपने-अपने बेस की तरफ बढ़ गए।

भारतीय वायु सेना के वाइस चीफ एसबी देव ने बताया, "लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर मंगलवार को भारतीय वायु सेना के कई विमान उतरें। इससे पहले भी एक्सप्रेस वे पर लड़ाकू विमानों को लैंड कराया गया था, लेकिन इस बार पहली बार ट्रांसपॉर्ट विमान सी 130 की लैंडिंग कराई गई।" इससे पहले एसबी देव ने कहा कि हाइवे पर विमानों की लैंडिंग अहम ऑपरेशनल उपलब्धि होगी। युद्ध काल में किन्ही कारणों से रनवे ना मिलने पर हाईवे हमारे लिए जरूरी होंगे।'

एसबी देव बताते हैं, "केंद्र सरकार ने भी इस बात को बेहद गंभीरता से लिया है। जो भी नया हाईवे बनाया जा रहा है उसमें लड़ाकू विमान की लैंडिंग की क्षमता का प्रावधान होगा।"

लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे पर इन विमानों ने दिखाया दम

मंगलवार को लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे पर सबसे पहले सी -130 की शॉर्ट लैंडिंग से गरुड़ कमांडो उतारे जिन्होंने हवाई पट्टी को घेर फाइटर ऑपरेशन के लिए जगह बनाई। इसके बाद 3 जगुआर, मिराज की 3-3 विमानों की 2 फॉर्मेशन और सुखोई -30 की 3-3 विमानों की 2 फॉर्मेशन हुआ।

ये भी पढ़ें:- लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर एक्सरसाइज, तीन मिराज जेट्स का टचडाउन, देखें वीडियो

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top