‘अभ्यर्थियों के लाभ के लिए फॉर्म प्रक्रिया आसान करेंगे’

Basant KumarBasant Kumar   9 May 2017 11:40 PM GMT

‘अभ्यर्थियों के लाभ के लिए फॉर्म प्रक्रिया आसान करेंगे’राजशेखर ने पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के निदेशक के रूप में शनिवार को पदभार संभाला

लखनऊ। पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के पास छात्रवृति देने, होस्टल का निर्माण कराने, शादियों में आर्थिक मदद करने सम्बन्धी जिम्मेदारी होती है। काम में पारदर्शिता लाकर तमाम ज़रुरतमंदों को मदद देने के लिए डॉ राजशेखर क्या करने वाले हैं इस सम्बन्ध में गाँव कनेक्शन से बातचीत करते हुए बताया कि विभाग के सभी योजना का हमने रिव्यू किया है और मुख्य रूप से इस विभाग में वेलफेयर से सम्बन्धित जो योजना है (छात्रवृति देने,हास्टल का निर्माण कराने, शादी अनुदान ) उसपर काम किया जाएगा। राजधानी में जिलाधिकारी के रूप अपने कामों से लोगों को प्रभावित कर चुके डॉ़ राजशेखर ने पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के निदेशक के रूप में शनिवार को पदभार संभाला है।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

डॉ. राजशेखर आगे बताते हैं, ‘’मुख्यमंत्री जी के सामने भी विभाग का प्रस्तुतिकरण हुआ था तो उन्होंने और मंत्री जी ने बहुत सारे निर्देश और सुझाव दिए है। वर्तमान योजनों को कैसे बेहतर बनाया जा सकता है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को कैसे लाभ पहुंचाया जा सकता है। बजट की कमी के कारण कभी-कभी हम ज़रुरतमंदों की मदद नहीं कर पाते है, इस वित्तीय वर्ष में हमने बजट बढ़ाने की मांग की है ताकि ज़रुरतमंदों को मदद मिल सके।

अभ्यर्थियों को लाभ देने के लिए की जाने वाली सत्यापन में ज्यादा वक़्त लगता है। अभ्यर्थियों को कई स्तर पार सत्यापन कराना होता है, जिससे लोग परेशान होते है। हम सत्यापन व्यवस्था में कुछ बदलाव लाने की कोशिश करेंगे ताकि लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े। पात्र व्यक्ति को मिले इसको हम सुनिश्चित करेंगे और अगर किसी पात्र व्यक्ति को लाभ नहीं मिलता तो वो हमें टोल फ्री नम्बर पर कॉल करके जानकारी दे सकते है। ऑनलाइन भी शिकायत कर सकते है।

ग्रामीण क्षेत्र के लोग जो इटरनेट पर बहुत अच्छे से काम नहीं कार पाते हैं। जब वो छात्रवृति या किसी और योजना के लिए फॉर्म भरते है तो कुछ गलती हो जाती है। गलती होने के कारण कई बार उन्हें लाभ नहीं मिल पाता है। ऐसे में हम कोशिश करेंगे कि फॉर्म भरने की प्रक्रिया को आसान किया जाए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top