किसान आयोग के गठन से ही हल होंगी कृषकों की समस्याएं : किसान मंच 

किसान आयोग के गठन से ही हल होंगी कृषकों की समस्याएं : किसान मंच धान की रोप लगाती किसान बेटियां।

लखनऊ (भाषा)। राष्ट्रीय किसान मंच ने आज किसान आयोग के गठन पर जोर देते हुए कहा कि देश में काश्तकारों की समस्याओं को सुलझाने के लिए यही एकमात्र रास्ता है। राष्ट्रीय किसान मंच के अध्यक्ष शेखर दीक्षित ने सीतापुर के पारा गांव में आयोजित एक बैठक में कहा कि जब तक किसान आयोग का गठन नहीं होता, तब तक किसानों की समस्याएं और दुर्दशा लगभग एक ही जैसी रहेगी।

उन्होंने कहा कि किसान आयोग ऐसा होना चाहिए जिसे संवैधानिक शक्तियां भी प्राप्त हों। आयोग को जल्द से जल्द गठित किया जाना चाहिए, ताकि किसानों के साथ साथ कृषि क्षेत्र को भी बचाया जा सके, नहीं तो मध्यप्रदेश के मंदसौर जैसे हालात देश के अन्य भागों में भी पैदा हो सकते हैं।

डिजिटल इंडिया की परिकल्पना गांवों से अब भी दूर

दीक्षित ने कहा कि केंद्रीय कर्मचारियों के वेतनमान के पुनरीक्षण के लिए अब तक सात आयोग गठित हो चुके हैं, लेकिन किसानों की दशा को सुधारने के लिए ऐसा कोई आयोग या प्रयास अभी तक नहीं किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि डिजिटल इंडिया की परिकल्पना गांवों के लिए अब भी दूर की कौड़ी बनी हुई है।

संबंधित खबर : सबके हैं आयोग (ग़रीब किसान को छोड़कर)

संबंधित खबर : किसान इस समय क्या करें, कृषि वैज्ञानिक ने दिये सुझाव

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top