पांचवीं क्लास के मासूम ने सुसाइड नोट में लिखा “प्लीज़, मैम से कहिएगा कि वो किसी को ऐसी सज़ा ना दें”  

पांचवीं क्लास के मासूम ने सुसाइड नोट में लिखा “प्लीज़, मैम से कहिएगा कि वो किसी को ऐसी सज़ा ना दें”   मृतक छात्र के माता-पिता 

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पांचवी क्लास में पढ़ने वाले 12 साल के नवनीत प्रकाश ने खुदकुशी कर ली। नवनीत ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि उसकी टीचर उसे बहुत मारती हैं और तीन पीरियड उन्होंने उसे खड़ा किया हुआ था। इसलिए वह अपनी जिंदगी को खत्म कर रहा है। मामले के बाद टीचर (भावना) को गिरफ्तार कर लिया गया है और FIR भी दर्ज हो गई है।

ये भी पढ़ें-आत्महत्या रोकने के लिए रितिक और करण ने चलाया अभियान

नवनीत ने सुसाइड करने से पहले लिखा, ''पापा, आज मेरा पहला एग्जाम था लेकिन मेरी क्लास टीचर की वजह से मैं सुबह 9.15 बजे तक रोता रहा। मैम ने मुझे तीन पीरियड तक बाहर खड़ा कर दिया था। मैं आज अपनी जिंदगी को खत्म करने जा रहा हूं। प्लीज़, मैम से कहिएगा कि वो किसी को इस तरह की सज़ा ना दें। गुडबाय, मम्मी, पापा और दीदी"

प्रतीकात्मक फोटो

ये भी पढ़ें-शादी के चंद घंटों बाद इंजीनियरिंग जोड़े ने आत्महत्या की

गोरखपुर के सैंट एंटनी कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने वाला 12 साल के नवनीत का 15 सितंबर को एग्जाम था। लेकिन वह अपनी टीचर के व्यवहार से खुश नहीं था। उसके परिवार के अनुसार, जब एग्जाम के बाद नवनीत घर लौटा तो काफी परेशान और दुखी था। नवनीत के पिता रवि प्रकाश ने बताया, ''वो जब स्कूल से आया तो चुपचाप ऊपर चला गया, थोड़ी देर में नीचे आया और खाना खाने के लिए मांगा। उसकी मम्मी ने उसे खाना दिया, उसने एक निवाला खाते ही पानी पिया। उस पानी को वह अपने साथ ही लाया था।'' रवि प्रकाश ने कहा कि उसके बाद वह ऊपर चला गया और काफी देर तक नीचे नहीं आया जिसके बाद हम ऊपर उसे देखने गए। उन्होंने बताया कि जब हम ऊपर पहुंचे तो अपने बैड पर लेटा हुआ था और उसके मुंह से झाग निकल रहा था।

रवि उसे पास के एक अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उसे वहां पर मृत घोषित कर दिया था। नवनीत के पिता ने बताया कि मेरा बेटा एक होनहार छात्र था, वह अपनी क्लास टीचर से ही ट्यूशन लेता था। वह काफी अच्छे मार्क्स लाता था, लेकिन भावना उसे मानसिक तौर पर पीड़ित करती थी और उससे ट्यूशन लेने का दबाव बनाती थी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top