यूपी के दिव्यांगों के लिए हेल्पलाइन 0522-2286188

यूपी के दिव्यांगों के लिए हेल्पलाइन 0522-2286188दिव्यांगजन हेल्पलाइन का शुभारंभ करते मंत्री ओम प्रकाश राजभर।

लखनऊ। प्रदेश के दिव्यांगजन सशक्तीकरण और पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने दिव्यांगजनों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं, कार्यक्रमों एवं अन्य सुविधाओं की जानकारी देने के लिए दिव्यांगजन हेल्पलाइन-0522-2286188 का शनिवार को शुभारंभ किया। निशातगंज स्थित विद्या भवन के सभाकक्ष में इसका शुभारंभ किया गया।

इस अवसर पर राजभर ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता है कि दिव्यांगजनों को सशक्त करने के लिए तेज गति से उन तक अधिक से अधिक जानकारी पहुंचाई जाए, ताकि वे अपने घर से ही विभिन्न प्रकार की सुविधाओं का लाभ ले सकें। उन्होंने कहा कि अब सुदूरवर्ती क्षेत्रों में निवास करने वाले दिव्यांगजन घर में बैठकर ही हेल्पलाइन पर फोन करके अपनी समस्याओं का निदान कर सकते हैं। इससे एक ओर जहां दिव्यांगजनों का समय बचेगा, वहीं दूसरी ओर उन्हें त्वरित गति से विभिन्न योजनाओं का लाभ मिलेगा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

हेल्पलाइन के शुभारम्भ के अवसर पर एक फोन करके दिव्यांगजनों के लिए चलाई जा रही पेंशन योजना, कृत्रिम अंग तथा सहायक उपकरण प्राप्त करने के सम्बन्ध में जानकारी हासिल की। प्रमुख सचिव, दिव्यांगजन सशक्तीकरण, महेश कुमार गुप्ता ने कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में दिव्यांगजनों के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। साथ ही उन्हें लाभान्वित करने के लिए अनेक कार्यक्रम बनाये जा रहे हैं। इसके तहत सामाजिक सुरक्षा, उनकी शैक्षिक, आर्थिक एवं रोजगार के सम्बन्ध में लाभप्रद योजनाएं संचालित हैं। मंत्री राजभर ने बचपन-डे-केयर सेन्टर के श्रवण बाधित 10 मूक बधिर बच्चों को हियरिंग मशीन का वितरण किया। उन्होंने बताया कि बचपन-डे-केयर सेन्टर अभी प्रदेश के 10 जनपदों में ही चल रहा है, जिन्हें अब 10 और मण्डलों में शुरू कराया जाएगा।

ये भी पढ़ें: भारत में पहली बार दिव्यांग को मिला ड्राइविंग लाइसेंस

समारोह में दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के निदेशक अनूप कुमार यादव, संयुक्त निदेशक मुख्यालय अखिलेन्द्र कुमार एवं डाक्टर एके वर्मा, कुलसचिव डाक्टर शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय सहित दिव्यांग्ता से सम्बन्धित संघों एवं स्वैच्छिक संस्थाओं के पदाधिकारी भी उपस्थित रहे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top