फसल ऋण : गोंडा में किसानों से लेखपाल मांग रहे थे सुविधा शुल्क, डीएम ने 4 को किया सस्पेंड

फसल ऋण : गोंडा में किसानों से लेखपाल मांग रहे थे सुविधा शुल्क, डीएम ने 4 को किया सस्पेंडरिपोर्ट लगाने के लिए वहां के लेखपाल द्वारा रिश्वत की मांग की गई।

गोंडा। जिलाधिकारी जेबी सिंह ने फसली ऋण योजना के तहत लाभ पाने के लिए रिपोर्ट लगाने के लिए सुविधा शुल्क मांगने की शिकायत का संज्ञान लेते हुए तहसील सदर के दो लेखपाल, करनैलगंज के एक लेखपाल तथा कोटेदार, कटरा बाजार के एक लेखपाल सहित चार लेखपालों को सस्पेन्ड कर एफआईआर दर्ज करा दी गई है।

ये भी पढ़ें- किसानों के काम की खबर- कम पानी में लहलहाएगी सरसों की नई किस्म

सदर तहसील ग्राम देवरहा निवासी पप्पू जायसवाल से रिपोर्ट लगाने के लिए वहां के लेखपाल द्वारा रिश्वत की मांग की गई। इसी प्रकार चौखड़िया के लेखपाल इन्द्र प्रकाश श्रीवास्तव ने बलराम यादव नामक व्यक्ति से मोबाइल फोन पर पांच सौ रुपए देने की मांग की। शिकायतकर्ता पप्पू जायसवाल ने रिश्वत मांगने का वीडियो बना लिया तथा बलराम यादव ने मोबाइल फोन पर रिश्वत मांगते हुए टेलीफोनिक वार्ता को रिकार्ड कर जिलाधिकारी को अवगत कराया।

डीएम ने मामले का संज्ञान लेते हुए दोनों लेखपालों को सस्पेन्ड करने तथा एफआईआर दर्ज कराने के आदेश सम्बंधित एसडीएम को दिए, जिसके क्रम में थाना खरगूपुर में एसडीएम सदर वीके सिंह तथा करनैगलंज व कटरा में एसडीएम करनैलगंज द्वारा एफआईआर दर्ज करा दी गई है।

ये भी पढ़ें- किसानों के काम की खबर- कम पानी में लहलहाएगी सरसों की नई किस्म

कर्जमाफी के लिए पैसे मांगने की शिकायत पर तहसील करनैगलंज के ग्राम कुंवरपुर अमरहा के लेखपाल बृजेश कुमार तथा कटरा बाजार के ग्राम माधवपुर छपरतला के लेखपाल कमला प्रसाद को रिश्वत मांगने के आरोप में निलम्बित किया जा चुका है जबकि इसी मामले में लेखपाल के साथ रिश्वत लेने में शामिल कुंवरपुर अमरहा के कोटेदार चेतराम गोस्वामी का कोटा निरस्त करते हुए उसके खिलाफ भी कोतवाली करनैगलंज में नामजद एफआईआर दर्ज कराई गई है। डीएम ने थाना प्रभारियों की अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top