साल 2017 में भी 1090 पर युवतियों का भरोसा रहा कायम 

साल 2017 में भी 1090 पर युवतियों का भरोसा रहा कायम 1090

गाँव कनेक्शन संवाददाता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में युवतियों से छेड़छाड़ की घटनाओं में एक तरफ साल दर साल इजाफा हो रहा, लेकिन इसका दूसरा पहलु यह भी है कि, युवतियां छेड़छाड़ की घटनाओं की शिकायत के लिए सामने आ रही हैं। यह बात हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि साल 2017 के अंत दिसम्बर माह में बीते वर्ष 2016 के मुकाबले छेड़छाड़ की घटनाओं की शिकायतों में 5 प्रतिशत का इजाफा हुआ है।

हर साल की तरह इस वर्ष भी युवतियों के साथ सबसे अधिक फोन पर 87 प्रतिशत छेड़खानी की घटनाएं हुई हैं। जबकि 9 प्रतिशत घटनाएं सार्वजनिक स्थानों पर शोहदों ने अंजाम दिया है। इन आकड़ों की माने तो देश में डिजिटल क्रांति के दौर में कुछ अराजकतत्व मोबाइल फोन का उपयोग केवल युवतियों से छेड़खानी के लिए ही कर रहे हैं। वीमेन पॉवर लाइन 1090 में इनकी शिकायतें मिलने पर संबंधित नम्बर की पहचान कर उन पर कार्रवाई तो की जा रही है, पर शिकायतों के अंबार से साफ जाहिर है कि, शोहदों के अंदर कानून का कोई खौफ नहीं रहा है।

ये भी पढ़ें-यूपी एसटीएफ के पास झांसे में फंस रहे व्यापारियों की आ रही शिकायतें

आईजी वीमेन पॉवर लाइन नवनीत सिकेरा ने बताया कि, 15 नवम्बर 2012 से लेकर 30 अक्टूबर 2017 के बीच में छेड़खानी की करीब 8,60,593 मामले दर्ज हुए हैं, जिसमें करीब 8,51,026 मामलों का निस्तारण हो चुका है। जबकि 9,567 मामलों की जांच की जा रही है। इन मामलों को भी जल्द निपटा लिया जायेगा।

आईजी नवनीत सिकेरा का कहना है कि, “बढ़ती छेड़खानी की शिकायतों से यह बात साफ जाहिर है कि, युवतियां अब अपने साथ होने वाली छेड़खानी की घटनाओं पर शांत होकर नहीं बैठती हैं, जबकि इसका विरोध करने के लिए युवतियां अपनी शिकायत 1090 के फोन लाइन पर दर्ज करवा शोहदों को सबक सिखाती हैं।”

उन्होंने आगे कहा कि, “जैसे-जैसे पॉवर लाइन का सूबे में प्रचार-प्रसार बढ़ेगा, वैसे-वैसे शिकायतों में इजाफा होगा।” इसके पीछे नवनीत सिकेरा वजह युवतियों की जागरूकता और पॉवर लाइन की सक्रियता को मानते हैं।

ये भी पढ़ें-1000 करोड़ से यूपी में पर्यटन स्थलों का होगा कायाकल्प, देखिए तस्वीरें

वर्ष दर्ज शिकायतें शिकायतों का निपटारा प्रतिदिन कॉल

2012 12,195 12,185 3,456

2013 1,42,113 1,41,949 3,715

2014 1,56,289 1,56,114 8,352

2015 1,56,324 1,56,285 9,592

2016 1,94,208 1,94,134 9,782

2017 1,99,464 1,90,359 9,821

सबसे अधिक इन 7 जिलों से आई छेड़खानी की शिकायतें

जिला शिकायतें

1-लखनऊ 160905

2-कानपुर नगर 41804

3-इलाहाबाद 33596

4-वाराणसी 32863

5-गोरखपुर 22575

6-आगरा 21117

7-जौनपुर 20004

सबसे कम इन 7 जिलों से आई शिकायतें

जिला शिकायतें

1-श्रावस्ती 1286

2-ललितपुर 2194

3-कासगंज 2429

4-चित्रकूट 2454

5-कौशाम्बी 2596

6-महोबा 2816

7-हापुड़ 2893

उम्रवार युवतियों से छेड़खानी की घटनाएं

उम्र छेड़खानी के आंकड़े

0-15 17342

15-20 227867

20-25 307258

25-30 137196

30-40 64806

40-50 42282

50 से ऊपर 63842

कुल 860593

ये भी पढ़ें-ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को सशक्त करना पुलिस की पहली प्राथमिकता: सुलखान सिंह

Share it
Top