सरकार महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए तेजी से काम करेगी: रीता बहुगुणा जोशी

सरकार महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए तेजी से काम करेगी: रीता बहुगुणा जोशीमहिलाओं को जागरूक करने के लिए मोबाईल एप्लीकेशन बनाई गई है।

गाँव कनेक्शन संवाददाता

लखनऊ। महिला एवं बाल कल्याण विभाग की योजनाओं को आसानी से लोगों तक पहुंचाने और आम लोगों के सुझाव जानने के लिए एक मोबाइल ऐप जारी किया गया है।

महिलाओं से संबन्धित सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

‘जागृति’ मोबाइल ऐप्लीकेशन को लांच करने के बाद कैबिनेट मंत्री महिला एवं बाल कल्याण रीता बहुगुणा जोशी ने कहा, “हम सभी को साथ मिलकर काम करने की जरूरत है। हम उन लोगों को भी अपने साथ जोड़ना चाहते हैं, और सुझाव चाहते हैं जो दूरदराज इलाकों में एकांत में काम करते रहते हैं।” महिला सुरक्षा के बारे में बताते हुए रीता जोशी ने कहा, “सरकार महिलाओं की समस्याओं को हल करने के लिए तेजी से काम करेगी।

राजनेताओं, नौकरशाह और सिविल सोसाइटी के लोगों को मिलकर काम करने की जरूरत है।”अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने वाले स्वयं सेवी संस्थाओं, व अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों से महिलाओं और बच्चों की समस्याओं और उन्हें हल करने के लिए सुझावों पर खुल कर बात की। इस दौरान मंत्री रीता बहुगुणा जोशी व प्रमुख सचिव रेणुका कुमार सभी के सुझावों को लगातार नोट भी करती रहीं।

वहीं, राज्यमंत्री स्वाति सिंह ने कहा, “विभागों की कई ऐसी चीजें हैं जो आम लोग जानते ही नहीं, इस तरह की मोबाइल ऐप्लीकेशन से हम योजनाओं को आसानी से बताया जा सकता है। इस ऐप पर आए सुझावों के आधार पर ही महिला सशक्तिकरण के लिए योजनाएं बनाई जाएंगी।”

राजनेताओं, नौकरशाह और सिविल सोसाइटी के लोगों को मिलकर काम करने की जरूरत है।
रीता बहुगुणा जोशी, कैबिनेट मंत्री

इस दौरान प्रमुख सचिव रेणुका कुमार ने महिला एवं बाल विकास विभाग में चल रही योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा, “इस आयोजन का मकसद प्रदेश में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना है। महिला सशक्तिकरण के लिए आगे भी लगातार तेजी से काम होते रहेंगे।” मीडिया व गैरमीडिया क्षेत्र से जुड़े लोगों ने भी अपने विचार रखे। गाँव कनेक्शन के फाउंडर नीलेश मिसरा ने कहानियों के माध्यम से योजनाओं और जनजागरुकता के कार्यक्रम रोचक अंदाज में दूरदराज गाँवों में पहुंचाने की बात प्रमुखता से कही।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top