उत्तर प्रदेश में 2 वर्षो में दिखेगी गुजरात मॉडल की झलक : सतीश महाना 

उत्तर प्रदेश में 2 वर्षो में दिखेगी गुजरात मॉडल की झलक : सतीश महाना िनेट मंत्री सतीश मह

विद्या शंकर राय

लखनऊ (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि पिछले 15 वर्षो में उत्तर प्रदेश में उद्योगों का विकास नहीं हुआ है, बल्कि केवल रियल स्टेट का विकास हुआ है। पिछले छह महीने के दौरान नई सरकार ने इस अविश्वास के माहौल को दूर कर विश्वास का माहौल बनाने में सफलता पाई है।

उन्होंने कहा कि हम दावे के साथ कह सकते हैं कि अगले दो वर्षो के भीतर उत्तर प्रदेश में गुजरात की तर्ज पर विकास की एक झलक दिखाई देगी। कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने आईएएनएस को दिए साक्षात्कार के दौरान यह बातें कही। गुजरात के दौरे से हाल ही में लौटे कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में निवेश लाने के लिए उद्योगपतियों को यहां सुरक्षा का माहौल देना पहली चुनौती है।

महाना ने कहा, "गुजरात के दौरे में काफी कुछ सीखने को मिला। उद्योगपतियों के मन में ज्यादा चिंता यहां के हालात को लेकर था। लेकिन हमने उन्हें आश्वस्त किया है कि नई सरकार के गठन के बाद परिस्थतियां बदल चुकी हैं। सरकार उप्र में निवेश के लिए उन्हें एक बेहतर माहौल उपलब्ध कराएगी।"

ये भी पढ़ें- ताजमहल का दीदार करने वाले यूपी में भाजपा के पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने ताजमहल परिसर में लगाई झाडू

उप्र के उद्योग मंत्री ने कहा, "पिछले 15 वर्षो में यहां के उद्योगों का विकास नहीं हुआ, बल्कि यहां रियल स्टेट का सम्राज्य खड़ा किया गया है। इसीलिए उद्योगों की हालत बदतर हो चुकी है। सरकार का प्रयास है कि उत्तर प्रदेश में मृतप्राय उद्योगों को नए सिरे से खड़ा किया जाए और इसमें कम से कम दो वर्ष का समय लगेगा।"

उन्होंने कहा, "हमने गुजरात के उद्योगों और वहां की नीतियों को समझा है। इसके बाद हम महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश सहित कई राज्यों में जाने और वहां की औद्योगिक नीतियों को समझने का प्रयास करेंगे। गुजरात की करीब तीन करोड़ जनता मिलकर वहां का विकास कर सकती है तो उत्तर प्रदेश की 22 करोड़ जनता यहां का विकास क्यों नहीं कर सकती।"

महाना ने कहा, "गुजरात के उद्योगपति उत्तर प्रदेश में फूड प्रोसेसिंग, टेक्सटाइल्स और आईटी इंडस्ट्री में उतरना चाहते हैं। वह यहां आने को काफी उत्सुक हैं। हमने उन्हें आमंत्रित किया है कि आप आइए और उत्तर प्रदेश में निवेश करिए। इसमें सरकार आपको हर संभव मदद करेगी।"

ये भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भाई सीमा पर करते हैं देश की रक्षा

कैबिनेट मंत्री ने कहा, "पूर्वाचल और बुंदेलखंड में उद्योग लगाने वालों को सरकार ने खासतौर पर इनसेंटिव देने का ऐलान पहले ही किया है। सरकार उद्योग लगाने के लिए पूरी सहूलियत देने का काम करेगी। पहले की सरकारों ने ऐसा नहीं किया। विदेश से आने वाले उद्योगपति महाराष्ट्र और गुजरात में जाकर निवेश करते हैं, लेकिन पिछली सरकारें उन्हें उत्तर प्रदेश लाने में सफल नहीं हुई, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।"

कैबिनेट मंत्री से यह पूछे जाने पर कि सरकार के लिए निकाय चुनाव कितनी बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा, "सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान छेड़ा है। हम कह सकते हैं कि पिछले छह महीने में सरकार ने जनता के बीच पैदा अविश्वास को विश्वास में बदलने का काम किया है। यही हमारी सबसे बड़ी सफलता है।"

महाना से यह पूछे जाने पर कि सरकार के अपने ही विधायक और सांसद उनके लिए मुश्किलें खड़ी कर रहे हैं, इस पर उन्होंने कहा कि पूरी पार्टी एक है। कहीं कोई मतभेद और नाराजगी जैसी बात नहीं है। सबको अपनी बात कहने का अधिकार है।

ये भी पढ़ें- वाराणसी में गिरिजा देवी के नाम पर होगा सांस्कृतिक संकुल : योगी आदित्यनाथ

ताजमहल को लेकर भाजपा विधायक संगीत सोम द्वारा दिए गए विवादित बयान को लेकर महाना ने कहा कि ताजमहल को लेकर विवाद करना उचित नहीं है। सांस्कृतिक धरोहरों की रक्षा और उनका संरक्षण होना चाहिए।

खेती और रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मशीनों और जुगाड़ के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top