यूपी में अब डकैतों पर लगाम लगाएंगे ह्यूमन इंटेलिजेंस  

Abhishek PandeyAbhishek Pandey   20 July 2017 8:38 PM GMT

यूपी में अब डकैतों पर लगाम लगाएंगे ह्यूमन इंटेलिजेंस   यूपी पुलिस। साभार : इंटरनेट

लखनऊ। राजधानी सहित पूरे प्रदेश में बढ़ती डकैती की घटनाओं को देखते हुए पुलिस अब अपराध रोकने के लिए एक नई योजना बना रही है। इसके तहत सुपर कॉप्स के चयन समेत ह्यूमन इंटेलिजेंस बनाने की प्रक्रिया शुरू है। जानकारों की माने तो इसमें तेजतर्रार दरोगा व इंस्पेक्टर शामिल किए जाएंगे। खासकर उन दरोगा को इसमें शामिल किया जाएगा, जिन्होंने लूट और डकैती जैसी घटनाओं पर काम किया है।

इन सुपर काप्स में प्रथम नाम इंस्पेक्टर मधुर मिश्रा, रधुविर सिंह, नागेंद्र चौबे, सीओ अजित सिंह चौहान, अरूण द्धिवेदी, विकास पाण्डेय, तारा इंद्रधर, एसटीएफ में साइबर अपराध के एक्सपर्ट एसपी त्रिवेणी सिंह को शामिल कर अपराध पर अंकुश लगाने की योजना है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार इन सुपर काप्स की जमीनी अपराध पर बेहद मजबूत पकड़ है। यह वह पुलिस वाले हैं, जो अपराध का ट्रेंड सहित उनकी लोकेशन को तत्काल ट्रेस कर लेते हैं। साथ ही इन सभी सुपर काप्स ने जमीनी मुखबिर भी तैयार कर रखे है, जिनसे अपराधियों तक जल्द पहुंचने में मदद मिलती है।

ज्यादातर चुने गए कॉप्स गैर जनपद में तैनात हैं

आपको बता दें कि इस सुपर कॉप्स में इन दरोगा व इंस्पेक्टर को शामिल करने के पीछे एक वजह यह भी थी कि इनमें से ज्यादातर राजधानी से गैर-जनपद में तैनात हैं। जिसके कारण इनके अनुभव का लाभ पुलिस को ठीक-ठीक नहीं मिल पा रहा था। हालांकि, अब लगातार बढ़ती डकैती और लूट की घटना से परेशान राजधानी पुलिस इनकी मदद लेगी।

इस संबंध में राजधानी के कप्तान दीपक कुमार ने बताया कि अपराध पर लगाम लगाने के लिए जमीनी पकड़ होना बेहद जरुरी है। पुलिस विभाग में किसी भी पुलिस कर्मी के लिए जमीनी ह्यूमन इंटेलिजेंस बेहद जरुरी है। ज्यादातर बड़ी घटनाओं में सर्विलांस से मदद नहीं मिल पाती। इसके पीछे सबसे बड़ी वजह है कि अपराधियों को भी मालूम हो चुका है कि इलेक्ट्रॉनिक चीजों का प्रयोग करने से सर्विलांस व अन्य साधनों की मदद से उन तक पहुंच जायेगी।

संबंधित खबर : डकैत ददुआ से लोहा लेने वाली ‘शेरनी’ छोड़ना चाहती है चंबल, वजह ये है

संबंधित खबर : ददुआ चित्रकूट का डकैत या देवता?

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top