अयोध्या : सरयू किनारे धधकती शराब की भट्टियों से स्थानीय लोग परेशान

अयोध्या : सरयू किनारे धधकती शराब की भट्टियों से स्थानीय लोग परेशानअवैध शराब की भट्टियों पर छापा मारती पुलिस (फाइल फुटेज)

अयोध्या (फैजाबाद)। अयोध्या को धर्म की नगरी कहा जाता है, सरयू को देश की पवित्र नदियों में गिना जाता है, लेकिन इसी नदी के किनारे रोजाना कच्ची शराब की भट्टियां धधकती हैं, सरयू के रेतीले इलाकों में सैकड़ों लीटर कच्ची शराब बनाई जाती है, जो लोगों को सेहत और जिंदगी दोनों पर भारी पड़ रही है।

अयोध्या से मात्र 6 किलोमीटर दूर निषाद नगर रेतिया समेत सरयू किनारे बसे गांवों और रेतीले इलाकों में कच्ची शराब बनाई जाती है। स्थानीय लोगों के मुताबिक ये शराब जहरीली होती है, जिसे पीकर कई लोगों की मौत भी हो चुकी है। पिछले हफ्ते ही एक व्यक्ति की जान शराब के चलते गईै है। निषाद समाज समेत स्थानीय लोगों ने इसके लिए कई बार आवाज़ उठाई, धरना प्रदर्शन भी किया। पुलिस के कईबार छापेमारी भी की लेकिन कुछ दिनों बाद भट्टियां फिर सुलगने लगती हैं।

थाना कैन्ट इलाके में रहने वाले बेचल लाल निषाद इसके खिलाफ लगातार लड़ाई लड़ रहे हैं, वो बताते हैं, “मेरे घर के बगल में अवैध शराब के दो दो अड्डे हैं, इसकी शिकायत प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक से कर चुका हूं। लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। उल्टा उन्हें ही जान से मारने की धमकियां मिलने लगी।”

बेचन लाल निषाद, स्थानीय निवासी

मेरे घर के बगल में अवैध शराब के दो दो अड्डे हैं, इसकी शिकायत प्रशासन से लेकर मुख्यमंत्री तक से कर चुका हूं। लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। उल्टा उन्हें ही जान से मारने की धमकियां मिलने लगी।”
बेचन लाल निषाद, स्थानीय निवासी

पिछले वर्ष निषाद नगर इलाके के आसपास पुलिस ने छापा मारकर रेत में छिपाई गई हजारों लीटर कच्ची शराब बरामद की थी। स्थानीय लोगों का कहना है अगर ऐसे ही शराब का कारोबार का चलता रहा तो आसपास के लोगों को ये इलाका छोड़ना पड़ेगा।

इसी गांव के अरविंद कुमार निषाद (40 वर्ष) कहते हैं जब शिकायत करते हैं पुलिस आती है, कुछ भट्टियां तोड़ी भी जाती हैं। लेकिन उनके जाते ही धंधा फिर से शुरु हो जाता है। ये लोग इतने दबंग हैं कि तुरंत मारपीट पर उतारू हो जाते हैं। इनमें कई महिलाएं भी शामिल हैं।”

शराब की भट्टियां बद कराने के लिए स्थानीय लोग कई बार कर चुके हैं प्रदर्शऩ। फाइल फोटो

इस पूरे मामले पर थाना कैन्ट के SI इन्द्रजीत आर्या ने बताया , “कि वहां पूरे क्षेत्र में लोग शराब बेचने का काम करते हैं जो मिलता है उसे पकड़ लिया दाता है हम लोग कई बार टीम गठित करके भी पकड़ते हैं।”

Share it
Top