अद्भुत : 5 हजार लोगों के इस गांव में सबका जन्म 1 जनवरी को हुआ

Mithilesh DubeyMithilesh Dubey   20 May 2017 2:21 PM GMT

अद्भुत :  5 हजार लोगों के इस गांव में सबका जन्म 1 जनवरी को हुआ5 हजार लोगों के इस गांव में सबका जन्म 1 जनवरी को हुआ । (प्रतिकात्मक फोटो)

इलाहाबाद। संगमनगरी इलाहाबाद में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। इलाहाबाद के जसरा ब्लाक के घूरपुर के गांव कंजासा में हर किसी शख्स की आधार कार्ड में जन्मतिथि 1 जनवरी लिखी हुई है। यहां के लोग आधार कार्ड के सहारे अपने काम को अंजाम देने के लिए परिचय पत्र में रूप में प्रयोग करते हैं।

आधार कार्ड के मुताबिक गांव में हर पुरुष, महिला और बच्चे ने 1 जनवरा को जन्म लिया है। गौरतलब है कि आधारकार्ड में बड़ी गड़बड़ी की बात सामने आ रही है। इस गांव में कुल 5 हजार लोग रहते हैं। लोगों ने बताया कि पहले तो सबको आधार कार्ड पाने के लिए कई दिनों तक इंतजार करना पड़ा। इसके बाद जब इनको कार्ड मिला तब भी यह लोग से इस गड़बड़ी का पता चला है तब से खुद को ठगा से महसूस कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें- झारखंड की 12 हजार गायों को मिला आधार कार्ड, अब तस्करी से बचे रहेंगे जानवर

उनका कहना है ज्यादातर कामों के लिए अब आधार कार्ड जरूर हो गया है। इसमें तारीख गलत दर्ज होने से बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस गड़बड़ी का पता तब चला जब सरकारी स्कूलों के अध्यापक छात्रों के आधार कार्ड नंबर रजिस्ट्रेशन के लिए गए थे। स्कूल की एक शिक्षिका ने ये मामला पकड़ा। उन्होंने बताया कि आधार कार्ड पर दो जन्मतिथि अंकित है उससे बच्चेकाफी बड़े उम्र के लगते हैं।

ये भी पढ़ें- एक जुलाई तक पैन कार्ड और आधार नंबर को लिंक कर लें, नहीं तो हो सकती है परेशानी

गांव की ग्राम प्रधान राम दुलारी का कहना है कि हमें आधार कार्ड में जन्मतिथि की गड़बड़ी में बता दिया गया है। इस गलती को जल्द ही दूर कर दिया जाएगा और नए आधार कार्ड जारी किए जाएंगे। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व डीएस पाण्डेय ने बताया कि मामला हमारे संज्ञान में है। हम जल्दी ही यहां पर एजेंसी को तलब करके नए कार्ड जारी करा देंगे।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top