Top

किसानों की बढ़ी चिंता, कानपुर समेत कई जिलों में तेज बारिश और ओलावृष्टि

किसानों की बढ़ी चिंता, कानपुर समेत कई जिलों में तेज बारिश और ओलावृष्टिकई जगहों पर गिरे ओले।

लखनऊ। गेहूं की बंपर पैदावार की आस लगाए हजारों किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें हैं। गुरुवार को कानपुर, कानपुर देहात, उन्नाव समेत प्रदेश के विभिन्न जिलों में हुई बरसात और ओलावृष्टि से गेहूं की तैयार फसल बर्बाद होने की संभावना है। शाम अचानक मौसम ने करवट बदला तो गर्मी से परेशान आम आदमी ने राहत की सांस ली, तो दूसरी तरफ किसानों की चिंता बढ़ गई। अप्रैल महीने की इस पहली बारिश की संभावना मौसम विभाग ने पहले ही जारी कर दी थी।

इस समय रबी सीजन की प्रमुख फसल गेहूं की गांवों में गेहूं की कटाई चल रही है। जो गेहूं कट भी गए हैं उनकी मड़ाई नहीं होने से वह खेत और खलिहान में ही हैं। ऐसे में यह बरसात गेहूं के लिए घातक है।

कानपुर और उसके आसपास के गांवों बिठूर, मारियानी, चौबेपुर, नारामऊ और बिलहन में तेज बारिश के साथ ओलें अधिक गिरे हैं। ऐसे में यहां पर अधिक नुकसान होने की संभावना है। लखनऊ के अमौसी स्थित मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि अगले 24 घंटों में पूर्वांचल, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य यूपी के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश का अनुमान है। उन्होंने कहा कि किसानों को डरने की जरुरत नहीं है क्योंकि भारी बरसात और ओलावृष्टि की संभावना बहुत कम है।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.