सीएचसी के निरीक्षण में मिली खामियां, चिकित्सा प्रभारी को हटाने के निर्देश 

Shrivats AwasthiShrivats Awasthi   31 March 2017 2:37 PM GMT

सीएचसी के निरीक्षण में मिली खामियां, चिकित्सा प्रभारी को हटाने के निर्देश गुरुवार दोपहर 11 बजकर 55 मिनट पर डीएम अदिति सिंह नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण पर पहुंची।

उन्नाव। जिलाधिकारी अदिति सिंह ने गुरुवार दोपहर नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया। पूर्व सूचना के बावजूद यहां अव्यवस्थाआें को छिपाया नहीं जा सका। नतीजतन हर कदम पर गंदगी और अव्यवस्थाएं फैली मिली।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

स्वास्थ्य केंद्र में सफाई व्यवस्था दुरुस्त न मिलने और दंत रोग की आेपीडी में अलमारी के अंदर एक्सपायरी दवाएं मिलने पर डीएम ने सीएमआे को चिकित्सा प्रभारी को हटाने के निर्देश दे दिए। तीन घंटे तक चले निरीक्षण के दौरान अस्पताल में अफरा तफरी का माहौल बना रहा।

गुरुवार दोपहर 11 बजकर 55 मिनट पर डीएम अदिति सिंह नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण पर पहुंची। निरीक्षण कार्यक्रम पूर्व नियोजित था इसलिए यहां फैली अव्यवस्थाआें को चाक चौबंद करने की तैयारी पहले ही कर ली गई थी। स्वास्थ्य केंद्र पहुंचते ही डीएम ने सबसे पहले दंत विभाग की आेपीडी का हाल देखा।

यहां रखी एक अलमारी को जब उन्होंने खुलवाया तो उसमें रखी दवाएं एक्सपायरी डेट की मिली। इस पर उन्होंने चिकित्सक को आड़े हाथों लिया। आेपीडी में आंखो की जांच के लिए पुरानी मशीन का प्रयोग होने पर उन्होंने स्ट्रीट रेटीनो स्कोप मशीन को अपडेट करने के निर्देश दिए। इस बीच कई अन्य अलमारियों को जब डीएम ने खुलवाने का प्रयास किया तो उन्हें उनकी चाबी नहीं मिली। इस पर उन्होंने नाराजगी जताते हुए सभी अलमारियों के बाहर उसमें रखे सामान की सूची चस्पा करने के निर्देश दिए।

महिला अस्पताल में डीएम को व्यवस्थाएं दुरुस्त मिली। फैमिली प्लानिंग कक्ष में मरीजों के लिए बैठने की व्यवस्था न होने पर डीएम ने इंचार्ज कामिनी को फटकार लगाई। कक्ष में मरीजों के लिए स्टूल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। डीएम ने वार्ड में भर्ती मरीजों से दवाआें की उपलब्धता की जानकारी ली। यहां मरीजों से उन्हें संतुष्ट जवाब मिला। वहीं इमरजेंसी वार्ड में स्ट्रेचर पर रबर शीट गंदी मिलने पर नाराजगी जताई।

डीएम ने फौरन रबर शीट बदलने और बाद में हर दस दिन में इसे बदलते रहने के निर्देष दिए। इमरजेंसी वार्ड के साथ ही राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यालय का हाल देखा। महिला वार्ड की आेर जाते समय उन्हें गंदगी मिली। इस पर सफाई कराने के निर्देश दिए। जीने के टायल्स को दुरुस्त कराने के निर्देश एडीशनल सीएमआे डॉ एके त्रिपाठी को दिए। जेएसवाई कक्ष के निरीक्षण के दौरान प्रसूताआें को चेक का भुगतान समय से न किए जाने पर नाराजगी जताई। यहां उन्होंने कहा कि चेक के भुगतान को लेकर गंभीरता से लिया जाए।

शौचालय की दिन में दो बार कराएं सफाई

सीएचसी के निरीक्षण के दौरान डीएम अदिति सिंह ने शौचालय का हाल भी देखा। यहां उन्हें सफाई मिली। लेकिन उन्होंने टिप्पणी करते हुए कहा कि निरीक्षण की सूचना पहले से थी इसलिए सफाई कराई गई है। सफाई व्यवस्था दुरुस्त रहे इसके लिए उन्होंने स्टाफ और मरीजों के शौचालय की दिन में दो बार सफाई कराने के निर्देश दिए। इसके साथ ही यह भी कहा कि शौचालय के बाहर एक रजिस्टर रखा जाए। जिसमें सफाई के समय और सफाई करने वाले कर्मी का नाम दर्ज किया जाएगा। डीएम ने जिले के सभी सीएचसी में इस व्यवस्था को लागू करने के निर्देश सीएमआे को दिए हैं।

दो दिन में लग जाएं बायोमैट्रिक मशीन

नवाबगंज सीएचसी में बायोमैट्रिक अटेंडेंस की व्यवस्था न उपलब्ध होने पर डीएम ने सीएमआे को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बायोमैट्रिक अटेंडेंस के निर्देश कई माह पहले दिए जा चुके हैं। इसके बावजूद लापरवाही बरती जा रही है। डीएम ने कहा कि दो दिन के अंदर सभी सीएचसी में इस व्यवस्था को लागू करने के बाद उन्हें रिपोर्ट उपलब्ध कराई जाए। डीएम ने यह भी कहा कि वह सभी सीएचसी का निरीक्षण कर बायोमैट्रिक व्यवस्था को देखेंगी।

अल्ट्रासाउंड कक्ष में लटकता मिला ताला

डीएम अदिति सिंह को नवाबगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अल्ट्रासाउंड कक्ष में ताला लटकता मिला। इस पर जब उन्होंने सीएचसी प्रभारी डॉ अखिलेश विक्रम से सवाल किया तो उन्होंने बताया कि यहां तैनात डॉ गोरखपुर ट्रेनिंग में गए हुए हैं। ऐसे में मरीजों को अस्पताल से बाहर जाकर अल्ट्रासाउंड कराना पड़ रहा है। एेसे में डीएम ने कड़ी नाराजगी जताई। साथ ही सीएमआे को निर्देश दिए कि वह अन्य सीएचसी से डॉक्टरों को बुलाकर जल्द से जल्द अल्ट्रासाउंड की सुविधा शुरू करने के निर्देश दिए।

संविदा चिकित्सकों को लगाई फटकार

स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण के दौरान डीएम ने आयुष चिकित्सकों से भी सवाल जवाब किया। इस दौरान जब उन्होंने यहां अलमारी खुलवाई तो उसमें धूल भरी मिली। इस पर उन्होंने कड़ी फटकार लगाते हुए सफाई व्यवसथा बेहतर बनाने के निर्देश दिए।

एआरवी की उपलब्धता करें सुनिश्चित

नवाबगंज स्वास्थ्य केंद्र में एंटी रैबीज वैक्सीन न उपलब्ध होने पर डीएम ने सीएमआे से जवाब तलब किया। इस बीच उन्हें बताया कि यही हाल जिले की लगभग हर सीएचसी का है। एेसे में डीएम ने सात दिन के अंदर जिले की सभी सीएचसी में एआरवी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top