ये तो बस शुरुआत, सरकार जनकल्याण ही करेगी: डॉ. दिनेश शर्मा

ये तो बस शुरुआत, सरकार जनकल्याण ही करेगी: डॉ. दिनेश शर्माबुधवार को अपने आवास पर लोगों से बात करते उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा (फोटो: गाँव कनेक्शन)

लखनऊ। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा अपने पुराने आवास यूनिवर्सिटी रोड पर भी जनसुनवाई कर रहे हैं। जब वे महापौर थे, तब रोज ही वे अपने इसी आवास पर लोगों की समस्याओं को सुना करते थे। मगर जब से उप मुख्यमंत्री बने लोगों की संख्या बहुत अधिक हो गई है।

प्रचंड गर्मी के बावजूद अपने आवास के लॉन में बुधवार को डॉ. शर्मा ने लोगों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि, सरकार जनता के लिए है। सबका साथ, सबका विकास का नारा लेकर चल रही है।

हमारी सरकार को 325 सीटें मिली हैं। इतना प्रचंड बहुमत जनकल्याण के लिए बहुत तेजी से काम करने को लेकर ही मिला है। वही हमारी सरकार कर रही है। किसानों के लिए एक लाख रुपए तक की कर्जमाफी, एंटी रोमियो स्क्वायड, गेहूं और आलू की समर्थन मूल्य पर पूर्ण खरीद और अवैध बूचड़खानों के खिलाफ हमारे एक्शन इसी सबका एक हिस्सा है।
डॉ. दिनेश शर्मा, उपमुख्यमंत्री

सरकार का एक महीना पूरा होने के बाद गाँव कनेक्शन के सर्वे में जिस तरह से योगी सरकार की नीतियों को करीब 80 फीसदी लोगों ने पसंद किया है, उसको लेकर उन्होंने कहा कि ये तो बस एक शुरुआत है। सरकार का प्रत्येक कदम जनकल्याण की ओर अग्रसर होगा। धीरे-धीरे शत-प्रतिशत लोगों को हमारे काम पसंद आने लगेंगे।

सैकड़ों की संख्या में डॉ. शर्मा की जन-सुनवाई में भी लोग जुट रहे हैं। जो सीएम योगी तक नहीं पहुंच पाते हैं, वे इनकी जनता अदालत में पहुंच रहा है। पसीने से तर-बतर दिनेश शर्मा लोगों की समस्याओं को सुनते हैं। प्रत्यावेदनों को संबंधित विभागों तक पहुंचाने के लिए अपने पीए की ओर बढ़ाते जाते हैं।

गाँव कनेक्शन संवाददाता ने उनसे पूछा कि हाल ही में हमारे सर्वे में प्रदेश सरकार के अधिकांश फैसलों को ग्रामीण क्षेत्र में 79 फीसदी समर्थन हासिल हुआ है। इस पर आपकी क्या राय है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार को 325 सीटें मिली हैं। इतना प्रचंड बहुमत जनकल्याण के लिए बहुत तेजी से काम करने को लेकर ही मिला है। वही हमारी सरकार कर रही है। किसानों के लिए एक लाख रुपए तक की कर्जमाफी, एंटी रोमियो स्क्वायड, गेहूं और आलू की समर्थन मूल्य पर पूर्ण खरीद और अवैध बूचड़खानों के खिलाफ हमारे एक्शन इसी सबका एक हिस्सा है।

डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि हमने अब तक तीन कैबिनेट मीटिंग की हैं जिसमें सभी फैसलों का एकमात्र लक्ष्य आम, गरीब और ग्रामीण का कल्याण है। इसमें किसी तरह की कोताही नहीं की जा रही है।

Share it
Share it
Share it
Top