जेई का तबादला, चार्ज न देने से बिजली विभाग में संकट

Sujeet AgrihariSujeet Agrihari   2 Jun 2017 11:37 AM GMT

जेई का तबादला, चार्ज न देने से बिजली विभाग में संकटतबादला हो जाने के बाद भी चार्ज न देने से बिजली विभाग में संकट खड़ा हो गया है।

शोहरतगढ़। शोहरतगढ़ तहसील क्षेत्र के परसिया सब स्टेशन पर तैनात अवर अभियंता (जेई) का तबादला हो जाने के बाद भी चार्ज न देने से बिजली विभाग में संकट खड़ा हो गया है। सप्ताह भर पहले हुए तबादले के बाद नव नियुक्त जेई को चार्ज न मिलने से बिजली आपूर्ति में भी दिक्कत खड़ी हो गयी है।

परसियां सब स्टेशन पर तैनात जेई नित्यानंद ओझा तैनाती के समय से ही अपनी कार्यशैली को लेकर चर्चा में बने हैं। जनता के साथ अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों का फोन न उठाना इनकी फितरत में हैं। शिकायतों का पुलिंदा अधिकारियों के पास पहुंचा तो गत 18 अप्रैल को अधिकारियों ने नित्यानंद को परसियां सब स्टेशन से डुमरियागंज स्टेशन के लिए तबादला कर दिया। इसके बावजूद नए जेई को चार्ज नहीं दिया गया है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

इसके चलते विभागीय कार्य प्रभावित होने लगे हैं और संकट की स्थिति खड़ी हो गयी है। सप्ताह भर पहले हुए तबादला के बाद विभाग ने नव नियुक्त जेई अनिल यादव की तैनाती किया है, लेकिन चार्ज न मिलने से यादव भी परेशान हैं। चार्ज लेने के लिए एक्सईएन का चक्कर लगा रहे हैं। जेई के इस मनमर्जी के चलते सब स्टेशन के दायरे में आने वाले क्षेत्रों में वसूली अभियान थम गया है, जबकि बकाएदारों को बिल जमा करने में दिक्कत खड़ी हो गयी है।

शोहरतगढ़ में नियुक्त जेई की विभाग में नई तैनाती है। अभी अनुभव न होने के चलते नित्यानंद ओझा के साथ लगाया गया है। जल्दी ही चार्ज दे दिया जाएगा।
घनश्याम मिश्र, एक्सईएन, सिद्धार्थनगर

विक्की वर्मा (26) ने बताया, "लापरवाही के चलते दिक्कतें झेलनी पड़ रही है। यही हाल रहा तो सड़क पर गुस्सा फूट सकता है।"प्रधान डॉ. पवन मिश्र (30) ने बताया कि पिछले तीन माह से बिजली का बिल नहीं जमा हो रहा है, यह लापरवाही ठीक नहीं है।

वहीं मनमानी झेल रहे कर्मचारी समय से बिजली आपूर्ति नहीं कर पा रहे हैं। पिछले सप्ताह भर से तहसील मुख्यालय क्षेत्र में बिजली की संकट खड़ी हो गयी है। जेई के रवैये पर कुंडली मार कर बैठे अधिकारियों के प्रति कर्मचारियों में आक्रोश पनपने लगा है, वहीं जनता भी नाराज होती दिख रही है। जेई के कार्यशैली को लेकर सोशल मीडिया पर बहस छिड़ी है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top