लखनऊ में सगी बहनों की हत्या का खुलासा, पड़ोसी युवक गिरफ्तार

लखनऊ में सगी बहनों की हत्या का खुलासा, पड़ोसी युवक गिरफ्तारपुलिस महानिरीक्षक ए. सतीश गणेश मीडिया को जानकारी देते हुए।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पारा क्षेत्र में दो सगी बहनों की हत्या की सनसनीखेज वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस ने उनके पड़ोसी को गिरफ्तार कर लिया है। सेवानिवृत्त सेनाकर्मी एलबी सिंह के घर में घुसकर उनकी दोनों बेटियों आरती और अंतिमा की गला रेत हत्या कर दी गई थी। वारदात के वक्त माता-पिता कमांड अस्पताल गए थे।

पुलिस महानिरीक्षक ए. सतीश गणेश ने बताया कि पारा क्षेत्र स्थित राम विहार कॉलोनी में कल सेवानिवृत्त फौजी के घर में घुसकर सगी बहनों आरती (24) और अंतिमा (17) की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या के मामले में पुलिस ने उनके पड़ोसी सौरव शर्मा (24) को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

उन्होंने बताया कि शुरूआती पूछताछ में पता चला है कि सौरव का आरती से प्रेम प्रसंग चल रहा था, लेकिन कुछ समय बाद दोनों का रिश्ता खत्म हो गया था। इसे लेकर सौरव इस कदर नाराज था कि उसने आखिरकार आरती की हत्या का फैसला कर लिया। उसने घर की रेकी की थी। बताया जा रहा है कि जब आरती के माता-पिता घर से बाहर गए, तो वह मंगलवार को उसके घर में घुस गया। उसने लोहे की कैंची से वारदात को अंजाम दे दिया। सौरव संभवत: अंतिमा की जान नहीं लेना चाहता था, लेकिन बीच-बचाव की कोशिश में उसकी भी हत्या हो गई। मालूम हो कि घर लौटने पर मां-बाप ने रसोई में दोनों बेटियों के खून से लथपथ शव पाए थे।

पांच सालों से थी दोस्ती

आरोपी सौरभ पांच सालों से मृतका के घर के ठीक सामने रहता था, जिसके चलते दोनों परिवारों में भी घनिष्ठ दोस्ती थी। सौरभ और आरती की दोस्ती बढ़ती चली गई, जिसे उसने प्यार समझ लिया था। हालांकि की यह महज एक तरफा प्यार था। धीरे-धीरे वह आरती के हर मामले में हस्ताक्षेप करने लगा। इसका विरोध करने पर आरोपी भड़क जाता था, जिसके चलते ही आरती उससे दूर होती चली गई।

हत्या कर पहुंचा कमांड अस्पताल

सौरभ ने दोनों बहनों की हत्या करने के बाद अपने घर में नहा-धो के कैंट स्थित कमांड अस्पताल पहुंच गया, जहां दोनों बहनों के शवों को घरवाले लेकर आया था। यह करने के पीछे सौरभ का मकसद केवल इतना था कि हत्या शक का उस पर न हो और पुलिस के पल-पल की जांच पर उसकी नजर रहे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top