लखनऊ : अफसरों ने खुद परखी मेट्रो स्टेशनों की सुविधाएं

लखनऊ : अफसरों ने खुद परखी मेट्रो स्टेशनों की सुविधाएंमौके पर मुआयना करते अधिकारी।

लखनऊ। मेट्रो रेल कारपोरेशन (एलएमआरसी) के डायरेक्टर वर्क्स दलजीत सिंह और डायरेक्टर रोलिंग स्टॉक महेंद्र कुमार ने आज चारबाग व सिंगार नगर मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण किया तथा इस सेक्शन में चल रहे परियोजना के सभी कार्यों का जायजा लिया।

उन्होंने प्राथमिक खंड के अन्तर्गत आने वाले इस सेक्शन (चारबागध्ब्लू लाइन) के एंट्री व एग्जिट में चल रहे सिविल और सिस्टम कार्यो को जल्द से जल्द पूरा करने पर जोर दिया व स्टेशन की एंट्री और एग्जिट पर चल रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया तथा कान्ट्रैक्टर मेसर्स एल एंड टी को बचे हुए फ्लोरिंग के कार्य को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए है।

ये भी पढ़ें- लखनऊ मेट्रो में 30 फीसदी कम होगा वायु प्रदूषण

निरीक्षण के इस मौके पर दोनों डायरेक्टर्स ने चारबाग मेट्रो स्टेशन पर लगे सभी मशीनो व उपकरणों को देखा जोकि सभी सही तरह से काम कर रही हैं। इसी दौरान डायरेक्टर रोलिंग स्टॉक महेंद्र कुमार ने चारबाग स्टेशन के कस्टमर केयर में तैनात एससीटीओ का मओक टेस्ट भी लिया जिसमे महेंद्र कुमार ने खुद को एक पैसेंजर के रूप में रखा जिसमे मेट्रो में आवागमन से सम्बंधित कुछ सवाल किये जिसका उत्तर एससीटीओ ने प्लेटफार्म पर लगे रूट मैप के द्वारा बड़े ही सरलतापूर्वक समझाया वही डायरेक्टर रोलिंग स्टॉक ने कस्टमर केयर से जुड़े कुछ अन्य सवाल भी पूछे जिसमे वहा तैनात एससीटीओ ने सभी सवालो का सही उत्तर दिया।

ये भी पढ़ें- जल्द ही लखनऊ में दौड़ेगी मेट्रो, फायर ब्रिगेड ने दिया तीन स्टेशन को दिया नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट

वहीं दूसरी तरफ दलजीत सिंह ने दिव्यांगों के लिए बने प्रवेश निकास बिंदुओं आटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट, लिफ्ट व इनके लिए मेट्रो स्टेशन पर बनाये हुए प्रसाधनो को भी देखा वही मेट्रो स्टेशनो पर व्हील चेयर्स की सुविधा भी होगी।

चारबाग़ मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण पूरा करने के बाद दोनों निदेशकों ने सिंगार नगर मेट्रो स्टेशन गए जहां पर उन्होंने एंट्री व एग्जिट पॉइंट पर चल रहे निर्माण कार्य को जल्द पूरा करने को कहा। कांकोरस और प्लेटफार्म एरिया का निरक्षण किया। यहाँ के चल रहे फिनिशिंग के कार्यो को जल्द पूरा करने व इसके साथ साफ़ सफाई पर खास ध्यान रखने को कहा।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.