प्रदेश के 55 राज्य मार्ग बनेंगे राष्ट्रीय राजमार्ग, पर देना पड़ेगा टोल टैक्स 

Rishi MishraRishi Mishra   12 May 2017 5:55 PM GMT

प्रदेश के 55  राज्य मार्ग बनेंगे राष्ट्रीय राजमार्ग, पर देना पड़ेगा टोल टैक्स राज्य के 55 राज्य हाईवे को चौड़ीकरण कर फोरलेन बनाया जाएगा।

लखनऊ। राज्य के 55 राज्य हाईवे जो अब तक टोलमुक्त थे, मगर अब इनका चौड़ीकरण करके इनको राष्ट्रीय राजमार्ग बनाया जा रहा है। जिससे प्रदेश के लोगों को तेज सफर तो मिलेगा, मगर इसके साथ ही उन पर टोल भुगतान का बोझ भी पड़ेगा। 55 राज्य राजमार्गों का पीडब्ल्यूडी का प्रस्ताव राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने स्वीकार कर लिया है। जबकि 12 अन्य स्टेट हाईवे का प्रस्ताव शासन से एनएचएआई भेजा जाएगा।

हरदोई रोड जो कि अब तक केवल टू लेन पर ही चलता है। अगले डेढ़ साल में ये फोर लेन में तब्दील हो जाएगा। जिसके बाद में इसको नेशनल हाईवे की श्रेणी में डाल दिया जाएगा। इसी तर्ज पर बिजनौर से मुजफ्फरनगर को जाने वाला स्टेट हाईवे भी नेशनल हाईवे में तब्दील कर दिया जाएगा। इसको भी एनएचएआई अगले दो साल में फोरलेन कर देगा। ये दो मार्ग तो बस नजीर हैं। प्रदेश में ऐसे 55 मार्ग को दो साल के भीतर नेशनल हाईवे में तब्दील कर दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

पीडब्ल्यूडी के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि, हाल ही में उत्तर प्रदेश लोक निर्माण विभाग के राजमार्ग विभाग की ओर से 77 ऐसे स्टेट हाईवे की सूची एनएचएआई को भेजी गई थी। जिनमें से 55 को स्वीकार कर लिया गया। जबकि 12 प्रस्ताव फिलहाल कुछ कमियों के चलते लंबित कर दिए गए हैं। इनको भी बहुत जल्द ही स्वीकार कर लिया जाएगा।

लगने लगेगा टोल मगर सफर होगा आसान

विभागीय सूत्रों ने बताया कि, इन मार्गों के हाईवे बनने के बाद इन पर टोल टैक्स लगने लगेगा। इन सड़कों का चौड़ीकरण एनएचएआई निजी कंपनियों के जरिये करवाएगा। ऐसे में कंपनियों को अपना खर्च निकालने और इन सड़कों का रखरखाव करने के लिए टोल के जरिये वसूली करने का 35 साल का अधिकारी दिया जाएगा। इस वजह से प्रत्येक किलोमीटर करीब 40 पैसे टोल का खर्च इन नेशनल हाईवे पर भविष्य में वाहन चालकों को देना पड़ेगा।

सैकड़ों शराब के ठेके होंगे बंद

नेशनल हाईवे पर 500 मीटर के दायरे में शराब के ठेके बंद होने का नियम नेशनल हाईवे बनने के बाद स्टेट हाईवे पर भी लागू होगा। ऐसे में अभी जो शराब के सैकड़ों ठेके इन 55 राज्यमार्ग पर खुले हैं, वे बंद होंगे। या फिर यहां से अन्यत्र स्थापित किये जाएंगे। जिससे हाईवे बनने से शराब के कारोबारियों के लिए एक बुरी खबर जरूर होगी।

उत्तर प्रदेश में विकास की गति को बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार का सहयोग मिल रहा है। जिसमें एनएचएआई ने 55 स्टेट हाईवे को नेशनल हाईवे को बदलने का प्रस्ताव मंजूर कर लिया है। 12 अन्य मार्ग का प्रस्ताव लंबित है, वह भी जल्द स्वीकार कर लिया जाएगा। इससे प्रदेश में लोगों को तेज गति से परिवहन मिलेगा। जल्द ही सड़कों के चौड़ीकरण के टेंडर कर दिये जाएंगे।
केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री व पीडब्ल्यूडी मंत्री उत्तर प्रदेश

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top