सीएमओ के निरीक्षण में ड्यूटी पर नहीं मिले कई चिकित्सक

सीएमओ के निरीक्षण में ड्यूटी पर नहीं मिले कई चिकित्सकसामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र। फाइल फोटो

आभा, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

कन्नौज। गाँव के अस्पतालों में जाने से डाक्टर और कर्मचारी कतराते हैं। यह खुलासा सीएमओ समेत अन्य अफसरों के निरीक्षण से हुआ है। डीएम ने विकास खंड के दो-दो अस्पताल रोज देखने और उसी दिन कैम्प कार्यालय में रिपोर्ट भेजने के आदेश दिए हैं ।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

डीएम जगदीश प्रसाद के निर्देश पर शनिवार को सीएमओ डॉ. एके पचौरी ने कन्नौज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) का निरीक्षण किया। यहां डॉ. एसके सिंह और कक्ष सेवक सुशील कुमार नहीं मिले। ठठिया पीएचसी में भी स्वास्थ्य पर्यवेक्षक, प्रयोग सहायक श्रवण कुमार और एसएमएलटी विजय सिंह नहीं थे। डिप्टी सीएमओ डॉ. एके जाटव के निरीक्षण में जलालाबाद पीएचसी में प्रयोगशाला सहायक बीएल कुशवाहा और गुगरापुर में स्टाफ नर्स सुचित्रा वर्मा मौजूद नहीं थीं। डिप्टी सीएमओ डॉ. जेआर सिंह को भी गागेमऊ अस्पताल में डॉ. पवन सिंह व कक्ष सेवक शशिकांत वर्मा और तिर्वा सीएचसी पर दृष्टि मितिज्ञ ज्योति शुक्ल नहीं थीं।

वहीं, मानीमऊ गाँव की पीएचसी पर डॉ. नरसिंह राजपूत तो पांच अप्रैल से अनुपस्थित चल रहे हैं। ये खुलासा एसीएमओ डॉ. आरएम तिवारी के निरीक्षण से हुआ। गाँव वैसापुर पीएचसी पर भी एसीएमओ डॉ. केसी राय के औचक निरीक्षण में डॉ. दीपंकर कटियार भी नहीं मिले। डीएम जगदीश प्रसाद ने बताया, "सभी डिप्टी सीएमओ, एसीएमओ और नोडल अधिकारीयों को हर रोज अपने-अपने विकास खंड के दो-दो अस्पतालों का औचक निरीक्षण कर शाम चार बजे तक आख्या कैम्प कार्यालय में रिपोर्ट देने के आदेश दिए हैं। कार्रवाई भी की जाएगी।"

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top