बाराबंकी जिला अस्पताल में गंदगी देख बिफरे मंत्री दारा सिंह

Akash SinghAkash Singh   29 May 2017 10:00 PM GMT

बाराबंकी जिला अस्पताल में गंदगी देख बिफरे मंत्री दारा सिंहबाराबंकी जिला अस्पताल का निरीक्षण करते प्रदेश के प्रभारी मंत्री दारा सिंह चौहान।

कम्युनिटी जर्नलिस्ट

बाराबंकी। प्रदेश के प्रभारी मंत्री व पर्यावरण एवं वन मंत्री दारा सिंह चौहान शुक्रवार को बाराबंकी पहुंचे। मंत्री का काफिला सीधे जिला अस्पताल पहुंचा। यहां उन्होंने औचक निरीक्षण किया। मंत्री के साथ बाराबंकी की सांसद प्रियंका सिंह रावत भी मौजूद थी। मंत्री दारा सिंह चौहान ने अस्पताल में मरीजों का हाल जाना और अन्य जरूरी सुविधाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान एक मरीज ने बताया कि उसको दवा और इंजेक्शन अस्पताल के बाहर से लेने पड़े।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

मामले की जानकारी होते ही मंत्री ने अस्पताल कर्मियों पर अपनी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि “किसी भी कीमत पर मरीजों से बाहर की दवाएं न मंगाई जाएं। अस्पताल में गन्दगी देख कर मंत्री विफर पड़े। अस्पताल परिसर में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिए

बिना हवा भरे ही दिव्यांगों को बांट दी ट्राई साइकिल

जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद मंत्री लोक सभागार पहुंचे, जहां उन्हें दिव्यांगों को ट्राई साइकिल वितरित करनी थी। यहां पर मंत्री ने सभी दिव्यांगों से उनका हाल जाना। मंत्री के आने की खबर मिलते ही आनन-फानन में दिव्यांगों को बिना हवा के ही साइकिल बांट दी गयी। यह देख कर मंत्री जी बोले,“ भईया कहीं से एक पंप ला कर के इन टायरों में हवा डलवा दो।”

दिव्यांगों को बिना हवा भरे वितरित की गई ट्राई साइकिल।

सभा को संबोधित करते हुए मंत्री दारा सिंह ने कहा जिले के कुछ सरकारी अस्पतालों में प्रसूताओं के साथ गलत व्यवहार हो रहा है। ऐसे मामलो की जाँच कर जल्द से जल्द कार्यवाही करायी जाएगी। मंत्री ने बताया,“आने वाले समय में पर्यावरण को सुधारने के लिए और प्रदूषण को कम करने के लिए भी कड़े कदम उठाये जाएंगे।

ये भी पढ़ें: बाराबंकी : खर्च हुए कम दिखाया ज्यादा, हाकिम की नज़रें हुई टेढ़ी तो घेरे में आ गए प्रधान और सचिव

इसके लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह से मुस्तैद है। पर्यावरण को साफ-सुथरा रखने में सभी को आगे आना चाहिए, जिससे हमें एक स्वस्थ वातावरण मिल सके।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top