काकोरी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची मंत्री रीता बहुगुणा जोशी 

काकोरी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची मंत्री रीता बहुगुणा जोशी पीड़ित के घर पर रीता बहुगुणा जोशी।

लखनऊ। मड़ियांव के आईआईएम रोड पर ऑटो चालक द्धारा युवती के साथ रेप में नाकाम होने पर हत्या के मामले में प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी मंगलवार दोपहर पीड़ित परिवार को सांत्वाना देने उनके घर पहुंचीं। जहां मंत्री ने पीड़ित परिवार के साथ वक्त बिताया और उनकी घर की स्थिति के बारे में जाना। वहीं मंत्री रीता बहुगुणा जोशी से पीड़ित परिवार ने पुलिस की लापरवाही की दास्ता बताई। परिजनों का कहना था कि पुलिस अगर वक्त पर घटनास्थल पहुंच जाती तो शायद उनकी बेटी को बचाया जा सकता था।

ये भी पढ़ें- जीएसटी के विरोध में दिल्ली की 50000 कपड़ा दुकानें बंद

मड़ियांव के आईआईएम रोड पर चार दिन पहले राजाजीपुरम से नौकार से घर लौट रही युवती के साथ बीच रास्ते में एक ऑटो चालक ने अपने साथियों के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया, लेकिन अपन इस करतूत में नाकाम होने पर दरिंदों ने युवती को चलती ऑटो से बाहर फेंक दिया, जिससे उसकी ईलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई। इस घटना में दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार तो कर लिया, लेकिन मुख्य आरोपी ऑटो चालक सोनू को अबतक गिरफ्तार कर पाने में मड़ियांव पुलिस नाकाम नजर आ रही है।

पुलिस की इस हिलाहवाली को देख पीड़ित परिवार ने सोमवार शाम हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर एक कैंडल मार्च निकाला, जहां कई लोगों ने पहुंच कर मड़ियांव हादसे की शिकार युवती की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। वहीं मंगलवार सुबह पीड़ित परिवार से मिलने कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी मिलने पहुंची, जिससे पीड़ित परिवार ने जल्द दोषियों को सलाखों के पीछे भेजने की मांग की।

ये भी पढ़ें- 70 प्रतिशत किसान परिवारों का खर्च आय से ज्यादा, कर्ज की एक बड़ी वजह यह भी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

Share it
Top