नैक ‘ए’ ग्रेड काॅलेजों को यूजीसी का वेतनमान रहेगा जारी 

नैक ‘ए’ ग्रेड काॅलेजों को यूजीसी का वेतनमान रहेगा जारी प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा‍ॅ दिनेश शर्मा ने इस बात की घोषणा की।

लखनऊ। उच्च शिक्षा में गुणवत्ता संवर्धन योजना के तहत ऐसे अशासकीय महाविद्यालय, जो नैक द्वारा ‘ए’ ग्रेड में मूल्यांकित है, उन्हें यूजीसी का वेतनमान पूर्व की भांति जारी रहेगा। शिक्षकों को प्रोन्नति में अब ओरिएन्टेशन तथा रिफ्रेशर का लाभ प्रोन्नति की देयता तिथि से दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें- CBSE बोर्ड ने जारी किये दसवीं के नतीजे, यहां देखें रिजल्ट

प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डा‍ॅ दिनेश शर्मा ने इस बात की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि शिक्षकों की परीक्षा पारिश्रमिक की वर्तमान दरों में वित्त विभाग की सहमति के बाद दो गुने वृद्धि किए जाने पर भी सहमति बनी। उप मुख्यमंत्री ने लुआक्टा को आश्वस्त किया कि राज्य कर्मचारियों की ही भांति उच्च शिक्षा विभाग के शिक्षकों को भी जो जनवरी 2006 से जून 2006 के बीच नियुक्त हुए हैं, उन्हें एक अतिरिक्त वेतन वृद्धि दिये जाने पर राज्य सरकार विचार करेगी।

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र की इस इंजीनियर ने बताया, कैसे बिना खर्च किए खेती से कमाएं पैसे

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि अप्रैल 2005 के बाद नियुक्त शिक्षकों के सीपीएफ की कटौती यथाशीघ्र की जायेगी। उन्होंने कहा कि अशासकीय महाविद्यालयों तथा विश्वविद्यालयों के शिक्षकों के लिए लागू सामूहिक जीवन बीमा योजना में की जाने वाली कटौती की आयु 60 वर्ष से बढ़ाकर 62 वर्ष तक की जाएगी। महाविद्यालयों के शिक्षकों को प्रोफेसर का पदनाम दिए जाने, विनियमितीकरण से वंचित मानदेय शिक्षकों को विनियमित करने, कैशलेस चिकित्सीय सुविधा आदि दिए जाने की मांग पर उप मुख्यमंत्री ने इस पर सकारात्मक रूप से विचार करने का आश्वासन दिया। लुआक्टा के अध्यक्ष डाॅ 0 मनोज पाण्डेय ने राज्य सरकार द्वारा 20 प्रतिशत आवासीय भत्ता बढ़ाने, पति एवं पत्नी को राज्य कर्मचारियों की भांति आवासीय भत्ता दिये जाने, 20 साल की सेवा पर पूरी पेंशन दिये जाने संबंधी आदेश जारी किये जाने पर उप मुख्यमंत्री को बधाई दी।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top