महिंद्रा कबीर उत्सव : कल से कबीर के रंग में डूबेगा बनारस

महिंद्रा कबीर उत्सव : कल से कबीर के रंग में डूबेगा बनारसकबीर

नई दिल्ली (भाषा)। परमेश्वर के निर्गुण स्वरुप से अवगत कराने वाले कबीर का जन्मस्थान वाराणसी यूं तो हमेशा उनके रंग में डूबा रहता है लेकिन कल से वहां का माहौल ही कबीरमय होगा। कल वाराणसी में महिंद्रा कबीर उत्सव का दूसरा संस्करण प्रारंभ होगा जो 12 नवंबर तक चलेगा।

महिंद्रा एंड महिंद्रा समूह टीमवर्क्स आर्ट्स के साथ मिलकर इस कविता उत्सव का आयोजन कर रहा है। इसमें संत कबीर की अर्थपूर्ण कविताओं से संबंधित कई कार्यक्रम होंगे जिनमें उनके जीवन, संगीत और कविता के साथ-साथ उनके जन्मस्थान वाराणसी शहर के अनूठे माहौल को दर्शाया जाएगा।

ये भी पढ़ें - बेबाक ईमानदारी के कारण मुझे भाता है बॉलीवुड : मानव कौल

आयोजकों ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि इस उत्सव में स्थानीय कलाकारों के साथ-साथ कैलाश खेर और शुभा मुदगल जैसे बड़े नाम सम्मिलित होंगे। साथ ही बिन्दु मालिनी और वेदांत, महेश राम, नाथू लाल सोलंकी, रश्मि अग्रवाल, हरप्रीत सिंह जैसे लोग भी इस आयोजन की शोभा बढाएंगे। उत्सव में आए कलाकार बनारस घराना, सूफी संगीत, दादरा, ठुमरी, ख्याल गायकी, गजल, पखावज और तबला इत्यादि के अग्रणी प्रतिनिधि संत कबीर के शब्दों को धुन और ताल से जोड़ेंगे।

ये भी पढ़ें - ‘फिल्म पद्मावती में ऐतिहासिक तथ्यों को गलत ढंग से पेश किया’

महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के उपाध्यक्ष एवं प्रमुख (सांस्कृतिक आउटरीच) जय शाह ने कहा, ''महिंद्रा में, हम कला के संरक्षण और संवर्धन के लिए प्रतिबद्ध हैं। हम महिंद्रा कबीर उत्सव के अपने दूसरे संस्करण को लेकर काफी उत्साहित हैं जहां प्रमुख कलाकार, प्रसिद्ध कवि-संत कबीर से प्रेरित होकर वाराणसी के घाटों की एक अद्भुत पृष्ठ पट के बीच अपनी प्रस्तुति देंगे। इस समारोह में कबीर की कविता पर चर्चा होगी और उपस्थित लोगों को शहर की विरासत को देखने-समझने का भी अवसर मिलेगा।

ये भी पढ़ें - हिंदू विरोधी नहीं हूं : कमल हासन

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top