रूम पार्टनर से परेशान नर्सिंग की छात्रा ने की खुदकुशी 

रूम पार्टनर से परेशान नर्सिंग की छात्रा ने की खुदकुशी प्रतिमा त्रिपाठी। फाइल फोटो

लखनऊ। राजधानी में एक नर्सिंग की छात्रा ने केवल इसलिए फंदे से लटकर खुदकुशी कर ली कि उसकी रूम पार्टनर खुशमिजाज नहीं थी। साथ ही वह उसके भी हंसने और खेलने के लिए रोका करती थी। छात्रा ने मौत से पहले लिखे अपने सुसाइड नोट में अपना दर्द बयां किया, लेकिन अपनी मौत में रूम पार्टनर को परेशान न करने की भी बात कही। हालांकि पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है कि छात्रा की खुदकुशी करने की असल वजह क्या थी।

महानगर क्षेत्र में आईटी चौराहे स्थित विवेकानंद अस्पताल में नर्सिंग का कोर्स कर रही एक छात्रा ने मंगलवार रात अस्पताल परिसर के पीछे बने गर्ल्स हॉस्टल में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। उसका शव संदिग्ध हालात में पंखे से दुपट्टे के सहारे लटका देख रूम पार्टनर के होश उड़ गए। इसकी सूचना रूम पार्टनर ने हॉस्टल में अपने दोस्तों को दी। इसके बाद सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस को मौके से एक सुसाईड नोट मिला है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है। जबकि अस्पताल प्रशासन पूरे मामले को दबाने में जुटा रहा।

ये भी पढ़ें : पोस्टमॉर्टम कर रहे डाक्टरों ने जब लड़की का पैर देखा तो हैरान रह गए, वहां सुसाइड नोट लिखा था

एसएचओ महानगर कविन्द्र राय ने बताया कि, सिद्धार्थनगर की रहने वाली प्रतिमा त्रिपाठी (21) विवेकानंद अस्पताल में नर्सिंग का कोर्स कर रही थी। वह अस्पताल परिसर पीछे बने हॉस्टल में अपनी रूम पार्टनर नेहा कश्यप निवासी लहरपुर सीतापुर के साथ रहती थी। नर्सिंग के कोर्स की क्लास सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक चलती हैं। मंगलवार को सभी छात्राएं क्लास करने चली गईं थी, लेकिन प्रतिमा क्लास करने नहीं गई। उसकी पार्टनर जब दोपहर में वापस कमरे में गई तो प्रतिमा का शव पंखे से दुपट्टे के सहारे लटका देख दंग रह गई। वह शोर मचाने लगी, शोर सुनकर और छात्राएं मौके पर पहुंची। इस दौरान पुलिस को सूचना दी गई।

ये भी पढ़ें : सीबीआई को नहीं मिल पाए आईएएस अनुराग तिवारी के पहने कपड़े

सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे में तलाशी ली तो सुसाइडनोट बरामद हुआ। जिसमें मृतका ने लिखा है कि 'मेरी रूम पार्टनर से अनबन चल रही है। उसको मेरा हंसना, रोना, खेलना कुछ भी पसंद नहीं है। मैं बहुत परेशान हो चुकी हूं, इसके कारण आत्महत्या कर रही हूं। लेकिन मेरे मरने के बाद मेरी रूम पार्टनर को परेशान ना किया जाये, न ही उसके खिलाफ कोई कार्रवाई की जाये।' हालांकि इस पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने सुसाइड नोट को हेंडराइटिंग एक्सपर्ट से जांच कराने के लिए भेज दिया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top