अभिभावकों ने की स्कूल प्रबंधन के खिलाफ़ नारेबाजी

अभिभावकों ने की स्कूल प्रबंधन के खिलाफ़ नारेबाजीअवैध फीस वसूली को लेकर विद्यालयों के खिलाफ अभिभावकों का गुस्सा फूटा।

अमन कटियार, कम्युनिटी जर्नलिस्ट

शाहजहांपुर। अंग्रेजी शिक्षा के नाम पर अभिभावकों का शोषण करने वाले विद्यालयों के खिलाफ अभिभावकों का गुस्सा फूटा। सुदामा प्रसाद स्कूल के सामने अभिभावकों ने रोड जमकर नारेबाजी की।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

विद्यालय प्रशासन द्वारा अभिभावकों पर अभद्रता करने तथा काम में खलल डालने का आरोप लगाते हुए पुलिस में शिकायत की गई है। शहर के सुदामा प्रसाद स्कूल और अभिभावक संघ के बीच अवैध फीस वसूली को लेकर चल रही खींचतान के बीच विद्यालय में वार्ता के दौरान हंगामा हो गया। मासिक फीस के अलावा अन्य खर्चों के नाम पर 4000 रुपए वसूले जाने को लेकर विद्यालय प्रबंधन और अभिभावकों के बीच खूब नोकझोंक हुई। बात नहीं बनने पर अभिभावकों ने स्कूल में नारेबाजी करते हुए रोड पर जाम लगा दिया। रोड जाम की सूचना पाकर एसडीएम, सीओ सदर अखिलेश भदौरिया पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए।

पुलिस ने अभिभावकों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह अपनी जिद पर अड़े रहे। तमाम प्रयासों के बाद अधिकारियों की उपस्थिति में अभिभावकों और स्कूल प्रबंधक के खिलाफ वार्ता शुरू की गई। बच्चों के परिजनों ने स्कूल द्वारा अन्य खर्चे के नाम पर लिए जा रहे चार हजार रुपए लेने पर आपत्ति जताई। इस बीच अधिकारियों के कहने पर विद्यालय प्रबंधक और अभिभावकों के बीच अन्य खर्चों के नाम पर वसूले जाने वाले चार हजार के स्थान पर दो रुपए सालाना देने पर बात बन सकी।

अब विद्यालय प्रबंधन अभिभावकों से चार के स्थान पर दो हजार रुपये अन्य खर्चे के नाम पर वसूल करेगा। इसमें भी अभिभावकों चाहे तो एक बार मे ही जमा कर दें अन्यथा एक एक हजार रुपए महीने के हिसाब से दे सकता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Share it
Share it
Top