अगले महीने से नहीं मिलेगी गरीबों को चीनी, एपीएल कार्ड धारकों के लिए मिट्टी के तेल पर लगाई सरकार ने रोक

अगले महीने से नहीं मिलेगी गरीबों को चीनी, एपीएल कार्ड धारकों के लिए मिट्टी के तेल पर लगाई सरकार ने रोकअगले महीने से राशन कि दुकान पर नहीं मिलेगी चीनी।

लखनऊ। अगले महीने से गरीबों को चीनी नहीं मिलेगी, न ही एपीएल कार्ड धारकों को मिट्टी का तेल मिलेगा।जिला मुख्यालय से छह किमी. दूर खदरा चुंगी के कोटेदार आशीष कुमार बताते हैं, “सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत किसी भी राशन की दुकान से चीनी का वितरण नहीं किया जाएगा। अभी गोदामों में जो चीनी बची है उसका वितरण अंत्योदय कार्ड धारकों में कर दिया जाएगा। एपीएल राशन कार्ड धारकों को मिट्टी का तेल भी नहीं मिलेगा।”

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम की पात्रता सूची के अनुसार, उत्तर प्रदेश में 2.99 करोड़ गृहस्थी पात्र कार्ड धारक हैं, जिसमें से 13.34 करोड़ लाभार्थी हैं। जिलापूर्ति अधिकारी संतोष शाही बताते हैं, “इस माह से किसी राशनकार्ड धारक को चीनी नहीं बांटी जाएगी। एपीएल कार्ड धारकों को मिट‌्टी का तेल नहीं दिया जाएगा। कोटेदारों के पास जो बची हुई चीनी है उसे बांट दें। इसके बाद चीनी नहीं बांटी जाएगी।”

इस माह से किसी राशनकार्ड धारक को चीनी नहीं बांटी जाएगी। एपीएल कार्ड धारकों को मिट‌्टी का तेल नहीं दिया जाएगा। कोटेदारों के पास जो बची हुई चीनी है उसे बांट दें। इसके बाद चीनी नहीं बांटी जाएगी।
संतोष शाही,जिलापूर्ति अधिकारी, लखनऊ

एपीएल कार्ड धारकों को अब नहीं मिलेगा मिट्टी का तेल

मिट्टी का तेल बांटने वाले फुटकर दुकानदारों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए हैं। अंत्योदय योजना के कार्ड धारकों और राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना के तहत पात्र लोगों को गेहूं, चावल और चीनी व मिट्टी के तेल का वितरण किया जाता है। सभी लाभार्थियों को प्रति यूनिट करीब सात सौ ग्राम चीनी मिलती थी। अब सरकार ने चीनी वितरण पर रोक लगा दी है। अब गरीबों को बाजार से चीनी खरीद कर खानी पड़ेगी।

एपीएल कार्ड धारकों का गेहूं के बाद अब केरोसिन भी बन्द कर दिया गया है। एपीएल कार्ड धारकों के राशन कार्ड धारकों को मिलने वाला तीन लीटर केरोसिन अब नहीं मिलेगा। पहले एपीएल कार्ड धारकों को गेहूं भी दिया जाता था जो पांच माह पहले बंद कर दिया गया था। मिट्टी का तेल सिर्फ राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के पात्र गृहस्थी और अंत्योदय योजना के कार्ड धारकों को ही मिलेगा। इसके अलावा इनको गेहूं व चावल भी मिलेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top