पुलिस को बुरा कहने वाले ये ख़बर पढ़ें...

Anand TripathiAnand Tripathi   21 Jan 2018 8:56 PM GMT

पुलिस को बुरा कहने वाले ये ख़बर पढ़ें...यूपी पुलिस

अक्सर लोग पुलिस पर सवाल उठाते रहते हैं लेकिन जब पुलिस अच्छा काम करती है तो उसे वह सम्मान नहीं मिल पाता जिसकी वो हकदार है। पुलिस की ऐसी ही एक जिंदादिली की मिसाल देखने को मिली गाजियाबाद में। यहां के थानाक्षेत्र लिंकरोड के कड़कड़ रेलवे लाइन पर डॉयल 100 को आरपीएफ ने सूचना दी कि एक व्यक्ति पटरी पर मृत अवस्था में पड़ा है।

पीआरवी 2168 ने मौक़े पर पहुंचकर जैसे ही उसके ऊपर से चादर हटाया तो देखा वह जिंदा है। आनन-फानन में दरोगा कृष्णपाल और सिपाही सुखराज सिंह ने उसे लादकर सड़क पर खड़ी पीआरवी 2168 तक पहुंचाया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

दरोगा कृष्णपाल ने बताया, “घटना 13 जनवरी की है। आरपीएफ ने डॉयल 100 को कड़कड़ रेलवे लाइन पर एक व्यक्ति के मृत पड़े होने की सूचना दी थी। पीआरवी 2168 ने मौके पर पहुंचकर जब पटरियों के बीच में पड़े व्यक्ति के ऊपर से चादर उठाई तो देखा वह जिंदा है। वह बेहोश था और उसका पैर टूटा हुआ था।” इस पर मैंने और सिपाही सुखराज सिंह ने उसे उठाकर पांच सौ मीटर दूर सड़क पर खड़ी पीआरवी तक पहुंचाया। फिर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया।” इस घटना से जुड़ी पोस्ट को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।

Well done UP100 Ghaziabad 👏🏼👏🏼 दिखाओ अब चैनलों पर...करो डिबेट🤨 RPF की सूचना,एक ब्यक्ति railway track पर मृत पड़ा है।उक्त...

Posted by पुलिस छवि सुधार:-एक मुहिम on Saturday, January 20, 2018

ये भी पढ़ें- पुलिस की नौकरी से क्यों हैं परेशान पुलिसवाले

कई ट्रेनें ऊपर से गुजर गईं

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक़ ऊपर से कई ट्रेनें भी गुज़र गईं लेकिन उसे किनारे तक करने की किसी ने भी ज़हमत भी नहीं उठाई। सब तमाशा देख रहे थे और पुलिस के आने का इंतजार कर रहे थे। आरपीएफ ने भी पुलिस को सूचना देकर इतिश्री कर ली।

देवबंद के रहने वाला था व्यक्ति

सिपाही सुखराज सिंह ने बताया, “उसके पैर टूट चुके थे। उसको जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वह नाम अर्जुन था और थाना देवबंद सहारनपुर का रहने वाला है।

ये भी पढ़ें- ये पुलिस इंस्पेक्टर कर रहा ऐसा काम, सुनकर आप भी करेंगे तारीफ

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top