प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट का लाभ नहीं मिल पा रहा लाभार्थियों को 

प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट का लाभ नहीं मिल पा रहा लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवासीय योजना में जनपद में भारी अनियमितताएं बरती जा रही हैं।

अनिल चौधरी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

पीलीभीत। प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री आवासीय योजना में जनपद में भारी अनियमितताएं बरती जा रही हैं। इस योजना के अन्तर्गत उन गरीब परिवार को जिनके पास अपना सिर छुपाने के लिये छत नहीं है, उनको आवास उपलब्ध करवाना है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जनपद में जिन लोगों को आवास आवंटित किये गये, उन लोगों से ग्राम प्रधानों व ग्राम विकास सचिवों द्वारा अधिकारियों के नाम पर सुविधा शुल्क लिया जाता है। इस योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष में प्रत्येक ब्लॉक को एक निर्धारित लक्ष्य दिया जाता है, लेकिन पिछले वित्तीय वर्ष में जनपद का कोई ब्लॉक अपने लक्ष्य के करीब नहीं पहुंचा।

जनपद के अमरिया ब्लॉक को 515 आवास आवंटन करने का लक्ष्य दिया गया था, यहां केवल 365 आवासों का ही रजिस्ट्रेशन हो पाया। इन 365 आवासों में 286 आवासों की जीवी टैग हो चुकी है और 252 आवास स्वीकृत किये गये, लेकिन पिछले वित्तीय वर्ष में इस ब्लाक को कोई धनराशि आवंटित नहीं की गयी। जबकि बिलसंडा ब्लाक के वीडीओ ऋशिपाल ने बताया, “इस ब्लाक को 429 आवासों का लक्ष्य दिया गया था। उसमें से 400 आवास का रजिस्ट्रेशन हो चुका है।

125 लोगों के खाते में पहली किस्त भी जा चुकी है। इसके साथ बीसलपुर ब्लाक जिसमें 199 आवासों का लक्ष्य दिया गया था। जिसमें से 170 लाभार्थियों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है। जिसमें से केवल 25 लोगों के खाते में ही पहली किस्त की धनराशि पहुंची है।” यहां के वीडीओ जो बिलसंडा के भी वीडीओ का प्रभार देख रहे हैं। ऋशिपाल ने बताया कि दोनों ही ब्लाक में करीब-करीब लक्ष्य की प्राप्ति कर ली गयी है, बाकी लक्ष्य एक-दो दिनों में पूरा कर लिया जायेगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top