पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पहल से रायबरेली को मिली थी एनटीपीसी की सौगात

Anand TripathiAnand Tripathi   2 Nov 2017 2:29 AM GMT

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पहल से रायबरेली को मिली थी एनटीपीसी की सौगातफोटो: इंटरनेट

लखनऊ। रायबरेली स्थित ऊंचाहार एनटीपीसी की स्थापना पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 1981 में की थी। जिले के पहले सांसद फीरोज गांधी के निधन के बाद इंदिरा गांधी ने जिले की कमान संभाली थी। जिले के कई वरिष्ठ नेताओं का वह पिता की तरह ही सम्मान करती थीं। इनमें ही एक नाम था स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रहे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता रहे ठाकुर दल बहादुर सिंह का। उनके कहने पर ही ऊंचाहार में एनटीपीसी की 1981 में स्थापना हुई। यहां 1988 में बिजली उत्पादन शुरू हुआ था। एनटीपीसी ऊंचाहार में कुल पांच यूनिट हैं, जिसमें प्रत्येक की क्षमता 210 मेगावाट है।


बॉयलर में खराबी आने के कारण बंद हुई थी एक नंबर यूनिट
बता दें कि ऊंचाहार एनटीपीसी की यूनिट नंबर एक बॉयलर में खराबी आने की वजह से 20 अक्टूबर 2017 को बंद हो गई थी। इससे 210 मेगावाट बिजली का उत्पादन ठप हो गया था। यूनिट के अचानक बंद होने से प्रदेश सहित अन्य राज्यों को दी जाने वाली बिजली में कटौती की गई थी। 20 अक्टूबर की रात एनटीपीसी ऊंचाहार की यूनिट नंबर एक के बॉयलर में खराबी आ गई थी, जिससे यूनिट अचानक बंद हो गई। यूनिट के बंद होने से 210 मेगावाट बिजली का उत्पादन ठप हो गया है। जानकारी होते ही परियोजना के अधिकारियों में हड़कंप मच गया था।

कई राज्यों को मिलती है बिजली
एनटीपीसी ऊंचाहार से उत्तर प्रदेश सहित हिमाचल प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर, पंजाब व हरियाणा को बिजली की आपूर्ति की जाती है।


मिल चुके हैं कई पुरस्कार
देश में स्थापित एनटीपीसी की विद्युत परियोजनाओं में ऊंचाहार परियोजना ने एक वर्ष तक निर्बाध विद्युत उत्पादन किया था। इसके लिए ऊंचारहार कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर ने परियोजना को पुरस्कृत किया था।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top